फरियाद लेकर थाना पहुंचा व्यक्ति, तो ASI ने उसका पीटकर तोड़ दिया छाती..!

पलामू में पुलिस का क्रूर चेहरा सामने आया है। फरियाद लेकर थाना पहुंचे एक फरियादी की एएसआई ने जमकर पिटाई कर दी। इससे उसकी छाती की पसली टूट गई। इतना ही नहीं एएसआई ने पीड़ित के बेटे को भी पीटा। इससे उसके कान का पर्दा फट गया। बेटे का उपचार चल रहा है। इस बीच आरोपी एएसआई टूनटून तिवारी पर कार्रवाई नहीं होने से गांव वालों में नाराजगी है।

एएसआई की पिटाई से टूटी पसली 
loading...
घटना पलामू के छत्तरपुर थाने का है। इस थाने में तैनात एएसआई टूनटून तिवारी की पिटाई से अजय प्रजापति की छाती की पसली टूट गई। उसका अनुमंडलीय अस्पताल छत्तरपुर में उपचार चल रहा है। डॉक्टरों ने उसकी छाती की पसली टूटने की पुष्टि की है।

पीड़ित अजय प्रजापति ने बताया है कि मेरा चाचा विलास प्रजापति के साथ भूमि को लेकर पिछले कई वर्षों से झगड़ा चल रहा है। कुछ दिन पहले उनकी ओर से भूमि कब्जा करने की प्रयाशो हुई तो इस बात को लेकर कहासुनी हुई। जिसके बाद 30 जून को पुलिस घर पर आई और मेरे नाबालिग बेटा की निर्ममता से पिटाई कर दी। उसे बचाने गये मेरे पिता को भी पुलिस ने डांट- फटकार लगाया पुलिस की पिटाई से बेटा का कान खराब हो गया।

डीएसपी से शिकायत के बावजूद कार्रवाई नहीं
अजय के मुताबिक दूसरे दिन जब वह थाना गया, तो एएसआई टूनटून कुमार ने बिना बात सूने कमरे में बंदकरके उसकी लाठी से बुरी तरह पिटाई कर दी। इससे उसकी छाती की हड्डी टूट गई है। अजय घर का एकलौता काम करने वाला है। अपना उपचार करवाने के लिये उसे खेत को गिरवी लगाना पड़ा है। पीड़ित ने इस घटना की लिखित शिकायत डीएसपी से की लेकिन अबतक आरोपी एएसआई पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इधर, पुलिस की उस पिटाई से गांव वालों में आक्रोश है।

एसपी ने दिया जांच का आदेश
मामले की जानकारी मिलते ही पलामू एसपी अजय लिंडा ने जांच के आदेश दिये हैं। एसपी ने कहा है कि घटना की जानकारी मीडिया के माध्यम से मिली है। जांच की जा रही है। जांच में दोषी पाए जाने पर आरोपी एएसआई के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।