दूसरी विवाह कर रहा था पति, मंडप में पहुंची पहली पत्नी ने किया जबर्दस्त पिटाई, जानिये पूरा मामला

यूपी के शामली में एक विवाह समारोह में तब रंग में भंग पड़ गया। जब विवाह कर रहे युवक की पहली पत्नी तो विवाह के मंडप में आ धमकी और दूल्हे के साथ मार पिटाई प्रारम्भ कर दी। यही नहीं उसने दूल्हे के कपड़े तक फाड़ दिए। अचानक आ धमकी इस औरत को लोग समझ नहीं पाए और वहां पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। जब औरत ने दूल्हे के साथ मारपीट करनी प्रारम्भ कर दी तो लोगों में आपस में झड़प के साथ मारपीट भी हुई।

क्या है पूरा मामला
loading...
शामली की सदर कोतवाली क्षेत्र के चरण सिंह बारात घर में विवाह का कार्यक्रम चल रहा था। अचानक एक औरत मंडप में आ पहुंची और दूल्हे के साथ मारपीट प्रारम्भ कर दी। उसके कपड़े फाड़ दिए। मौके पर मौजूद लोग उस औरत के साथ आए लोगों के साथ भिड़ गए। दोनों तरफ से मारपीट प्रारम्भ हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। बताया गया है कि औरत विवाह कर रहे दूल्हे की पहली पत्नी है। पुलिस दोनों को कब्जे में लेकर थाने ले आई। पूछताछ में पता चला कि औरत दूल्हे की पहली पत्नी है। जिससे उसका खीज हो चुका है। औरत ने बताया है कि 3 वर्ष पहले उसकी विवाह मुजफ्फरनगर के रहने वाले युवक के साथ हुई थी। आरोप है कि युवक शराब पीने के बाद उसके साथ मारपीट करता था। दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था। इसके बाद उसे घर से निकाल दिया। विवाहिता ने ससुराल पक्ष पर कई मुकदमे दायर कर दिए। जो कोर्ट में विचाराधीन हैं। जब औरत को पति द्वारा दूसरी विवाह करने के बारे में पता चला तो वह अपने पिता व अन्य परिवार वालों के साथ समारोह स्थल पहुंच गई।

दूल्हे के परिवार वालों ने क्या कहा
युवक के परिवर वालों ने बताया है कि उनके बेटे का तलाक हो चुका है। लेन-देन की बात हुई थी। वह कुछ बकाया है जिस कारण औरत यहां आ धमकी और विवाह रुकवा दी। वहीं, औरत के पिता ने बताया है कि वह मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं। उनकी बेटी की विवाह मुजफ्फरनगर के ही युवक के साथ 3 वर्ष पहले हुई थी। पति-पत्नी में आपस में विवाद चल रहा था। जो कि मामला तलाक के लिए लोक अदालत में पहुंचा। जहां पर बिना उन्हें कुछ सूचना दिए वहां पर तलाक हो गया। उन्हें तलाक की बात का पता न चलने पर उन्होंने हाईकोर्ट में मामला डाल दिया। जोकि अभी चल रहा है। इसके बावजूद यह युवक विवाह करने के लिए शामली में आ पहुंचा है।

थाने में हुआ समझौता
अपर पुलिस अधीक्षक शामली राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि एक युवक शामली में विवाह करने के लिए पहुंचा था। युवती आ धमकी और विवाह को रुकवा दिया। पता चला है कि युवक का इस युवती के साथ पहले तलाक हो चुका है। लेकिन उनका कुछ लेनदेन का जो मामला था वह नहीं निपटा है। जिस कारण औरत ने आकर बीच में ही विवाह रुकवा दी। पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले आई और बाद में वह लोग थाने से बाहर लेनदेन को लेकर आपस में समझौता हो गया और दोनों पक्ष थाने से चले गए।