बेटे को हथकड़ी से ही बांधकर रखता है परिवार, क्योंकि इनके कारनामे भी हैं काफी ज्यादा जोरदार

कुछ बाते अक्सर सोचने पर मजबूर कर देती हैं।क्या ऐसा भी हो सकता है आज की दुनिया में अभीकुछ खबरें ऐसी होती हैं,जिन पर विश्वास करना नामुमकिन सा  होता हैं।मगर जब सामने आती है तो होश तक उड़ जाते हैं।ऐसा ही कुछ आज हम आपको बताने जा रहे जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे।
loading...
ये सच में परेसान कर देने वाला मामलापंजाब से सामने आया हैं।में जहाँ एक परिवार ने अपने 22 वर्ष के बेटे को नशे की लत से इतना हैरान हो गया की उन्होंने अपने बेटे को हथकड़ी से बांधने को मजबूर हो गया हैं।सूचना के लिए बताते चले वह ड्रग्स खरीदने के लिए दूसरों के घरों में चोरियां करने लगा था।और कई दिनों से घर का सामान भी बेच रहा था।इस वजह से पूरा परिवार काफी परेशान था। जब बेटे की इन हरकतों से परिवार थक गया तब उसे हथकड़ी से बांधने का फैसला लिया गया।पिछले 10 दिनों से वह घर में बन्द हैं।
इस मामले में नाभा तहसील के पिता तरसेम ने सूचना देते हुए बताया कि वह अपने बेटे संदीप की इस नशे की आदत से परेशान हैं।बेटे का कई बार उपचार करवाने की प्रयास भी की गयी।पुलिस तक को बताया,लेकिन कोई हल नहीं निकला।अब उसे हथकड़ी से बांध कर घर में रखना पड़ रहा हैं।उन्होंने बताया कि मैं और पत्नी काम कर घर का खर्च चलाते हैं।बेटे की लत ने हमारी सारी सेविंग्स समाप्त कर दी।

पुलिस से बोले- स्वयं ही देख लो बेटे को
मां मनजीत कौर ने बताया कि बेटे की लत छुड़ाने के लिए नशा मुक्ति केंद्र ले गए।पुलिस को बताया तो कहा-आप ही देख लो।कोई चारा न मिला तो घर में ही हथकड़ी से बांध दिया।पिछले 10 दिन से बेटा घर में हैं।खुशी की बात यह है कि वह खुद नशा छोड़ने के लिए तैयार हो गया हैं।

संदीप ने बताया-नशा करना आसान है, छोड़ना बहुत मुश्किल 
पीड़ित संदीप ने बताया कि वह दोस्तों की वजह से पिछले चार वर्ष से नशा कर रहा हैं।इस वजह से 10वीं की पढ़ाई भी छोड़ दी।उसने कहा उसे नशा खरीदने में मुश्किल नहीं होती।आसानी से मिल जाता हैं।गांव अमरगढ़ बागड़िया और रोहटी पुल के पास सरेआम चिट्टा बेचा जा रहा हैं।