भाभी और देवर के बीच कांटा बन गई पत्नी, राज खुलने पर दोनों ने कर लिया ये काम..!

loading...
देवर और भाभी के बीच रोड़ा बन रही पत्नी को पति और भाभी ने मिलकर हत्या कर दी। दोनो ने शव को नदी किनारे दफना दिया। मृतिका के मायकेवालो ने पूरी रामकहानी पुलिस को बताई तो पुलिस ने सक्रियता के साथ शव को ढ़ूढने का कोशिश शुरू किया। पुलिस का यह कोशिश सफल भी रहा। पुलिस ने तीन दिन बाद शव को नदी के किनारे से बरामद करके आरोपी देवर और भाभी को गिरफ्तार कर लिया। घटना आजमगढ़ जिले के फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के सरसना गांव की है।
ससना गांव के रहने वाले शोभनाथ की विवाह संतारा से 15 वर्ष पूर्व हुई थी। शोभनाथ का अपनी भाभी कांति देवी से पिछले चार-पांच वर्षों से अवैध संबंध था। इस बात की जानकारी जब संतरा को हुई तो उसने इसका विरोध करना शुरू कर दी। देवर और भाभी के बीच मे रोड़ा बन रही संतरा से पहले ही दोनो नाराज थे। 13 जुलाई को पत्नी ने एक बार फिर अपने पति को भाभी कांति देवी के साथ आपत्तिजनक हालत मे देख लिया। जिसका उसने विरोध किया तो पति ने उसे मारा-पीटा और उसी दिन से ही पत्नी आचानक लापता हो गयी थी। मृतिका के पिता का आरोप था कि अवैध संबंध के चलते ही उनकी बेटी की हत्या करके दुर्घटना का रूप देने की कोशिश हो रही थी।
वही पुलिस का कहना है कि आरोपियो ने भी मंजूर किया है कि उनके बीच अवैध संबंध थे। जिसका उसकी पत्नी विरोध करती थी। आरोपियो का कहना है कि दोनो को साथ देखकर वह उस दिन काफी गुस्से मे आ गयी और जाकर कुंवर नदी मे छलांग लगा दी। उन्होने उसकी हत्या नही की थी। पुलिस का कहना है कि इस घटना मे पुलिस सभी सबूतो को इकठ्ठा करके जो बात सामने निकलकर आएगी उसके आधार पर कार्रवाई की जायेगी। फिलहाल देवर और भाभी को मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया है।