रूस की इस लड़की को हुआ भारतीय छोरे से प्यार, और फिर यहाँ आकर भारतीय रीती-रिवाज से किया शादी

हम सभी को कभी न कभी किसी न किसी से प्यार जरूर होता है. जिस वक्त ये फीलिंग हमारे मन में आती है हम ये भरोसा करने लगते हैं कि यही एक बात है जो सच है और बाकी सब कुछ झूठ और फरेब है. प्यार होने पर इंसान अपने सपनों को किसी और की सोच के साथ भी साझा करने लगता है.
loading...
प्यार और जंग में सब जायज है…ये कहावत तो आपने सुनी होगी. कुछ लोग हैं जो प्यार में किसी भी हद तक गुजर जाने के लिए तैयार होते हैं. प्यार में बहुत ताकत  है. ये एक इंसान से वह सब कुछ करवा सकती है जो कोई और नहीं करवा सकता. ऐसा ही कुछ हुआ रूस की रहने वाली एक लड़की के साथ तभी तो वह बिना सोचे सात समंदर पार अपने प्यार से शादी करने भारत चली आई.

भारतीय कल्चर के अनुसार करेंगे शादी
दरअसल, पोकरण के रहने वाले शशि कुमार व्यास की शादी रूस की ही रहने वाली स्वेतलाना से हो रही है. स्वेतलाना अपनी शादी के लिए रूस से अपने मां-बाप, भाई-भाभी और अपने दोस्तों को भी साथ लायी हुई है. पोकरण फोर्ट में स्वेतलाना के परिजन ठहरे हैं. पोकरण के व्यासों की बगेची में जोर-शोर से शादी की तैयारियां भी चल रही हैं. 
स्वेतलाना हिंदू रीती रिवाज के साथ शादी करेंगी और अपने नए जीवन की शुरुआत करेंगी. स्वेतलाना के साथ विवाह को लेकर शशि व्यास का परिवार भी काफी उत्साहित है. स्वेतलाना के परिवार ने भारतीय कल्चर के अनुसार शादी के कार्ड छपवाए हैं. शादी में आने के लिए शशि ने अपने सारे परिजनों को बुलाया है और साथ ही कार्ड में सपने सास-ससुर व ससुराल पक्ष के लोगों का नाम छपवाया है.

मरू महोत्सव में ही हुई दोनों की मुलाकात
आपको बता दें की शशि ने साल 2017 में जैसलमेर में आयोजित मरू महोत्सव में भाग लिया जहां पर वह मिस्टर डेजर्ट चुने गए. वहीं पर शशि की मुलाकात स्वेतलाना से हुई. दोनों की दोस्ती हुई और धीरे-धीरे बात प्यार तक पहुंच गयी. उसी को लेकर आज स्वेतलाना भारतीय बहु बनने जा रही हैं. दोनों की शादी की रस्में जोरो-शोरों से चल रही हैं. शादी की रस्में मंगलवार से शुरू हो चुकी हैं. सबसे पहले भगवान गणेश की पूजा हुई और उसके बाद शादी की रस्में शुरू कर दी गयी. आज यानी बुधवार को दोनों शादी के पवित्र बंधन में बंध जाएंगे. टीम न्यूज़ट्रेंड भी इस प्यारे कपल को शादी की ढेरों शुभकामनाएं देता है.