अपने से छोटी उम्र के लड़के को प्रेमी बनाया, दोनों ने एक साथ पी लिया, फिर ऐसा हुआ कि लड़की को देनी पड़ी जान

छबड़ा कस्बे की जैन धर्मशाला के पीछे स्थित शिव कॉलोनी के मकान से पुलिस ने एक स्त्री का तीन दिन पुराना लाश बरामद किया हैं।पुलिस ने इस संबंध में कत्ल का मामला दर्ज कर स्त्री के प्रेमी लड़के को गिरफ्तार किया हैं। सूचना के अनुसार देव लाल पुत्र रेवड़ी लाल जाति हरिजन एक स्त्री सोनाबाई (55) पत्नी स्व. पप्पू लाल के साथ रह रहा था। दोनों को शराब की लत बताई जा रही हैं।दोनों ही कचरा बीन कर अपना गुजारा करते थे। 
loading...
शिव कॉलोनी के आसपास रहने वाले पड़ोसियों के अनुसार देवलाल व सोना बाई दोनों आए दिन शराब पीने के बाद लड़ाई झगड़ा करते थे।पड़ोसियों के अनुसार शनिवार 13 जुलाई को भी दोनों में झगड़ा हुआ था।कदाचित उसी दौरान देवलाल ने सोना बाई की कत्ल कर दी।लोगों ने दो दिन तक सोना बाई को नहीं देखा।सोमवार सुबह एक अन्य मामले में छबड़ा पुलिस का कॉन्स्टेबल आरोपी देवलाल के पिता रेवड़ी लाल को तामील कराने पहुंचा तो मोहल्ले वालों ने कॉन्स्टेबल से आरोपी देव लाल के घर से बदबू आने की शिकायत की।
कॉन्स्टेबल ने घर का दरवाजा खोल कर देखा तो वहां सोना बाई का लाश पड़ा था।कांस्टेबल की जानकारी पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतका सोना बाई की शव को कब्जे में लेकर मोर्चरी रखवाया और देव लाल पुत्र रेवड़ी लाल को गिरफ्तार कर जांच प्रारम्भ कर दी।थानाधिकारी रामानंद यादव के अनुसार मृतका सोना बाई के रिश्तेदार चाचा ससुर राम हेत हरिजन निवासी छबड़ा ने देव लाल के खिलाफ कत्ल का मामला दर्ज कराया हैं।पुलिस के अनुसार देव लाल ने मृतका सोनाबाई के सिर पर लकड़ी से तेज प्रहार किया था जिससे उसकी मृत्यु होना संभव हैं।

आरोपी ने बहन को सुनाई फर्जी कहानी

पुलिस ने बताया कि आरोपी देव लाल घर का दरवाजा लगा कर अपनी बहन जो कि क्षेत्र के कढ़ैया वन रहती है वहां जाकर अपने बहनोई व बहन से मिला और मां चंदाबाई पत्नी रेवड़ी लाल की मौत की झूठी जानकारी दी।इस पर बहन और बहनोई छबड़ा घर पहुंचे लेकिन उन्होंने घर का दरवाजा खोला तो सोना बाई का लाश देखकर घबरा कर वहां से चले गए।पुलिस के अनुसार इन्हें मोहल्ले वालों ने देखा। 

लाश लेने से मना किया

मृतका सोनाबाई का लास लेने से उसके सदस्यों ने मना कर दिया।सोना बाई अपने बच्चों को छोड़ कर अवैध तरीके से देव लाल के साथ रह रही थीं।