भाई ने जीजा से मिलकर बहन से किया गलत काम, पूरा मामला जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बागपत जिले में पुलिस ने हत्या के 24 घंटे के अंदर खुलासा किया है। इस खुलासे में भाई ने अपने बहनोई के साथ मिलकर अपनी सगी बहन को मौत के घाट उतार दिया। हिलवाडी गांव में रेखा हत्या मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार करके दो को जेल भेज दिया गया है, जबकि प्रदीप अभी अस्पताल में है।
loading...
इतना ही नहीं, आरोपित महिला ने हत्या का इल्जाम अपने प्रतिद्वंदी 6 लोगों पर लगाते हुये उनके खिलाफ बडौत थाने में दर्ज कराया था और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। वहीं अब पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए आरोपित महिला को ही गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है आरोपित महिला अंजू ने अपने बहनोई पप्पू जो जनपद शामली के थाना भवन स्थित मंडेट गांव का रहने वाला है व भाई प्रदीप उर्फ गुड्डू के साथ मिलकर अपने विपक्षियों को फंसाने के लिये हत्या की साजिश रची थी।

इस हत्या को उस समय अंजाम दिया गया जब देर शाम चारों (रेखा, पप्पू, अंजू व प्रदीप) खेत पर घूमने के लिए जा रहे थे। उसी समय गन्ने के खेत के पास पप्पू ने रेखा पर तमंचे से फायर कर उस को मौत के घाट उतार दिया। प्रदीप उर्फ गुड्डू को भी बहनोई पप्पू से गोली लगवा कर उसको घायल कर दिया। जिसके बाद पुलिस को झूठी सूचना देकर मामले से बचने का प्रयास भी किया। 
लेकिन पुलिस ने मामले का सही अनावरण करते हुए आरोपित महिला अंजू जो रमाला जनपद के बरवाला गांव में रहने वाली है तथा उसके बहनोई पप्पू (शामली) व भाई प्रदीप के साथ गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक पूछताछ के दौरान दोनों ने अपना जुर्म कबूल लिया। आरोपित अंजू ने रेखा के गोरीपुरी स्थित मकान पर पप्पू व प्रदीप के साथ मिलकर मुकदमे में फंसाने की योजना तैयार की थी।