प्रेम संबंध के बारे में पता चलने पर दोनों की कर दी गई अलग जगह शादी, और फिर शादी के बाद दोनों मिले इस हाल में

दरअसल, हाथरस के सादाबाद में कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला भावसिंह में बुधवार सुबह प्रेमी युगल के शव पेड़ पर लटके मिले। इससे गांव में सनसनी फैल गई। करीब दो माह पहले ही दोनों की शादी अलग-अलग जगह हुई थी। युवक की जेब से सुसाइड नोट मिला है। पुलिस ने आत्महत्या माना है।
loading...
सादाबाद क्षेत्र के गांव नगला भावसिंह निवासी जुगनू पुत्र धर्मवीर सिंह तथा च्योति पुत्री राजवीर सिंह के बीच करीब दो वर्ष से प्रेम संबंध थे। दोनों ही परिवार मेहनत मजदूरी करते हैं। इनके प्रेम संबंधों की जानकारी होने पर परिजनों ने उनके विवाह अलग-अलग जगह करा दिए थे। जुगनू की शादी 25 मई को आगरा के थाना खंदौली क्षेत्र के गांव नगला अर्जुन में हुई थी, जबकि च्योति की शादी 10 जून को लक्ष्मीनगर (मथुरा) में हुई थी। 
दो दिन पहले ही च्योति अपने पिता के साथ मायके नगला भावसिंह आई थी। जुगनू की पत्नी मंगलवार को अपने मायके गई थी। बताते हैं जुगनू और च्योति मंगलवार की रात करीब 12 बजे घरों से गायब हो गए थे। घरवालों ने उन्हें काफी ढूंढ़ा लेकिन नहीं मिले। बुधवार को सुबह करीब छह बजे दोनों के शव गांव के निकट रामकुमार के खेत में आम के पेड़ पर लटके मिले। जुगनू के हाथ की नस कटी हुई थी। उसी के खून से च्योति की मांग भरी गई थी। दोनों के शव पर खून के निशान थे। एक ही साड़ी से दोनों के गले में फंदा लगा हुआ था।