दोपहर में नर्सिंग होम मैनेजर को कट्टे से धमकाया, रात में कर दिया ताबड़तोड़ फायरिंग, जानिए क्या था कारण

धनबाद के संजीवनी निजी नर्सिंग होम में शनिवार को एक युवक अपने पिता की तबीयत खराब होने पर हाथ में पिस्तौल लहराते हुए दाखिल हो गया. उसने मैनेजेर के सीने पर कट्टा तानते हुए बोला कि मेरे पिताजी की तबीयत खराब है, जल्दी वार्ड बॉय से बोलो स्ट्रेचर लेकर चले...नहीं तो गोली मार दूंगा. यह देख नर्सिंग होम में मौजूद मरीज और तीमरदार दहशत में आ गए. 
loading...
वह पिस्तौल दिखाकर लोगों को धमका रहा था कि किसी ने हरकत करने की कोशिश की तो उसकी भी खैर नहीं. हालांकि जब युवक को लगा कि वो गलत कर रहा है और इसकी सजा उसे भुगतनी पड़ सकती है तो वह बगैर स्टाफ और स्ट्रेचर लिए ही भाग गया. हालांकि, युवक के दबंगई की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई.

फायरिंग के बाद अस्पताल में फैल गया दहशत का माहौल
गौरतलब है कि दोपहर में कतरास श्यामडीह स्थित संजीवनी नर्सिंग होम में हथियार चमकाने वाले दबंग संजय राय ने देर रात अस्पताल के बाहर आकर ताबड़तोड़ हवाई फायरिंग की. जिससे अस्पताल में मौजूद डॉक्टर और मरीजों के बीच दहशत का माहौल कायम है. हलांकि, इसके बाद अस्पताल प्रबंधक डॉ. सौरव प्रकाश ने घटना की लिखित शिकायत कतरास थाना में दी. गौरतलब है कि हवा में पिस्तौल लहराने वाले युवक की शिनाख्त हो गई है. वह नर्सिंग होम के पास का ही रहने वाला है. उसका नाम संजय राय बताया जा रहा है.
अस्पताल के बाहर फायरिंग की जानकारी मिलने पर आईएमए के धनबाद जिला सचिव डॉ. सुशील कुमार रात 12 बजे से आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरना पर बैठे हैं. इसके साथ ही उन्होंने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया कि दिनदहाड़े युवक हाथ में हथियार लहराकर खुलेआम चला जाता है और रात में आकर ताबड़तोड़ फायरिंग करता है. इसके बाद भी कतरास पुलिस और जिला प्रशासन मूकदर्शक बनी रहती है. 
वहीं मौके पर पहुंची कतरास पुलिस ने तीन खोखे बरामद किए और डॉ. सुशील को भरोसा दिलाया कि आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी, लेकिन वो अपनी मांग को लेकर अड़े हुए हैं. इसके साथ ही आईएमए ने घटना पर चिंता जताते हुए कहा कि रिवाल्वर संस्कृति में मरीज का इलाज संभव नहीं है. आरोपित गिरफ्तार नहीं होने पर जिले के सभी निजी नर्सिंग होम, अस्पताल और क्लीनिक हड़ताल पर चले जायेंगे. गौरतलब है कि घटना के बाद से चिकित्सकों में आक्रोश है.