पत्‍नी मायके में ही रहना चाहती थी, लेकिन जब पति ने घर चलने का बोला तो उसने किया ये काम

उज्जैन में मक्सी रोड पर स्थित पीलियाखाल नाले में गुरुवार शाम महिला कूद गई। 24 घंटे की मशक्कत के बाद भी पुलिस को महिला नहीं मिली। शुक्रवार को पुलिस ने नगर निगम की मदद से पुरानी पुलिया को तोड़ दिया, वहीं गोताखोरों ने भी दिनभर नाले में तलाश किया।
loading...
बताया जा रहा है कि महिला को उसका पति घर ले जाना चाह रहा था, जबकि वह मायके में ही स्र्कने का कह रही थी। इसे लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया। पति व जीजा बचाने कूदे थे मगर बचा नहीं सके। महिला का पता नहीं चलने से नाराजा पंवासा के लोगों ने शुक्रवार को मक्सी रोड पर चक्काजाम कर दिया। एसटीएफ ने मौके पर पहुंचकर जाम खुलवाया।
चिमनगंज पुलिस ने बताया कि पायल पति बबलू हनोतिया (20) निवासी नरवर का मायका पंवासा में है। गुरुवार को वह पति के साथ मायके में रक्षाबंधन मनाने के लिए आई थी। शाम को वह पति व दो जीजा गोपाल व जितेंद्र के साथ चकोर पार्क में घूमने गई थी। पति बबलू ने उसे नरवर चलने को कहा, जबकि पायल मायके में ही रहना चाहती थी। 

इसको लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया। इसके बाद पायल जाकर पीलियाखाल स्थित नाले में कूद गई। बचाने के लिए पति बबलू व जीजा जितेंद्र भी नाले में कूदे थे। मगर तेज बहाव के कारण वह पायल को बचा नहीं सके। इसके बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस देर रात तक पायल को तलाशती रही, मगर वह नहीं मिली।