बाजार में महिला समान खरीदने में इतनी व्यस्त हो गई की बेटा हो गया गायब, जानें फिर क्या हुआ

हल्द्वानी बाजार आईं एक महिला सामान खरीदने में इतनी तल्लीन हो गईं कि उनका चार साल का बच्चा बिछुड़ गया। एक जागरूक राहगीर की सतर्कता से बच्चा दो घंटे बाद मिल सका। मोटाहल्दू निवासी उमाशंकर की पत्नी दीपिका अपने चार साल के बेटे दीपांशु को लेकर बाजार आई थीं। 
loading...
सामान खरीदते समय बच्चा बिछुड़ गया। बच्चा कालाढूंगी तिराहे पर रो रहा था। इस बीच पचतोला हैड़ाखान निवासी नारायण दत्त पलड़िया की बच्चे पर नजर पड़ गई। उन्होंने बच्चों को कोतवाली पुलिस को सौंप दिया।
ट्रैफिक की महिला सिपाही नूतन तिवारी उसे लेकर बाजार घूमती रहीं। पुलिस बच्चे के बारे में वायरलेस से सभी चौकियों और थानों को सूचना प्रसारित कर दिया। दीपिका जब अपने बेटे के बारे में सूचना देने के लिए मंगलपड़ाव चौकी पहुंची तो पता चला कि उसका बेटा कोतवाली में है। कोतवाल ने दीपिका से कहा कि उनकी लापरवाही के चलते बेटा गायब हुआ है। दीपिका ने बताया कि पति उमाशंकर विदेश में नौकरी करते हैं।