जानिए क्यों इस रूप में बीबी-बच्चों के साथ पुलिस थाने पहुंचा गया यह युवक

बरेली के आंवला थाने के एक दबंग दारोगा के खौफ से युवक बुर्का पहनकर घूमने को मजबूर है। दारोगा ने पीडि़त के खिलाफ पहले चोरी का मुकदमा दर्ज कराया। पीडि़त ने कोर्ट में दारोगा की शिकायत कर मुकदमा डाला तो दबंग दारोगा ने उसपर दो मुकदमे और लाद दिए। वहीं, उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश शुरू कर दी। जिससे परेशान पीड़ित कई दिनों से बुर्का पहनकर घूम रहा है। शुक्रवार को वह बुर्का पहनकर कप्तान के सामने पेश हुआ। कप्तान से शिकायत के लिए उसने जैसे ही बुर्का हटाया तो कप्तान भी हैरान रह गए। शिकयत के बाद कप्तान ने पूरे मामले की जांच एसपी देहात को दी है।
loading...
आंवला के गौसिया चौक निवासी अकबर ढोल बजाने का काम करते हैं। पत्नी नगीना व बच्चों के साथ रहते हैं। अकबर ने बताया कि आंवला में तैनात एक दबंग दारोगा ने उसका जीना दुश्वार कर दिया है। कुछ हफ्ते पहले उसपर चोरी का झूठा मुकदमा दर्ज किया। चोर के साथ मिलकर उसे पीटा और फिर उसका चालान कर दिया। उसने दारोगा के खिलाफ कोर्ट में शिकायत की और मुकदमा डाला तो दारोगा का पारा चढ़ गया।
आरोप है कि दारोगा ने उसे धमकाया और मुकदमा वापस नहीं लेने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। इसके बाद भी अकबर ने शिकायत वापस नहीं ली। आरोप है कि दारोगा ने उसपर दबाव बनाने के लिए एक महिला की तरफ से छेड़खानी का झूठा मुकदमा दर्ज किया। उसके बाद भी मन नहीं भरा तो फिर चोरी का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी के नाम पर घर में दबिश व तोडफ़ोड़ की। दारोगा के खौफ में वह कई दिनों से बुर्का पहनकर घूम रहा है।

जांच में दोषी मिला तो की जाएगी सख्त कार्रवाई
शुक्रवार को अकबर पत्नी व बेटी के साथ एसएसपी  ऑफिस पहुंचे। एसएसपी ने उससे आने का कारण पूछा तो जैसे ही उसने बुर्का खोला तो एसएसपी भी देखकर सन्न रहे गए। उन्होंने उसकी बात सुनने के बाद जांच के आदेश दिए है। अकबर को अश्वासन दिया कि अगर दारोगा दोषी होगा तो सख्त कार्रवाई करेंगे। अगर वह गलत हुआ तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।