सोते समय जगाया, हाथ में बिस्कुट थमाया.. और फिर बोला-चल मेरे साथ

बरेली जिले में घर में अकेली सो रही पांचवीं की छात्रा को खींचकर ले जाने की कोशिश कर रहे 50 साल के शख्स को पड़ोसियों ने दबोच लिया। इसके बाद गांव वालों ने उसे बच्चा चोर बताते हुए जमकर पीटा, फिर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने उसके खिलाफ रिपोर्ट तो दर्ज कर ली, लेकिन उसे मानसिक मंदित मानते हुए कार्रवाई करने से हिचकिचा रही है।
loading...
बरकलीगंज में श्रीकिशन की पांचवीं में पढ़ने वाली 11 साल की बेटी राखी गुरुवार सुबह सात बजे घर में सोई हुई थी। श्रीकिशन मजदूरी करने गए हुए थे और उनकी पत्नी और बेटा खेत पर थे। इसी बीच एक 50 वर्षीय शख्स घर में घुस गया और राखी को जगाकर उसके हाथ में बिस्कुट थमा दिया, फिर उसे साथ चलने को कहने लगे। मना करने पर खींचने की कोशिश की तो राखी ने शोर मचा दिया। आसपास के लोगों ने शोर सुनकर उसे घर में ही दबोच लिया। 
लोगों ने उसकी जमकर पिटाई लगाई फिर थाने ले गए। मारपीट में आरोपी के कपड़े तक फट गए। श्रीकिशन और उनकी पत्नी त्रिवेणी भी थाने पहुंच गए। लोगों ने आरोपी को बच्चा चोर बताया। पुलिस काफी पूछताछ के बाद बाद भी उससे कुछ नहीं उगलवा सकी। इंस्पेक्टर अवनीश कुमार ने बताया कि बातचीत करने से आरोपी बिहार का लग रहा है। वह अपना नाम पता भी ठीक से नहीं बता पाया। हालांकि गांव वालों के अड़ने पर बच्ची के पिता से तहरीर लेकर उसके खिलाफ रिपोर्ट लिख ली।