संबंध बनाने के आरोप में पंचायत ने करा दिया लड़की की शादी, लड़की ने ये कहा

यूपी के महाराजगंज जिले की ग्रामीण पंचायत एक बार फिर विवादों के घेरे में है। आरोप है कि गांव के पंचों ने तुगलकी फरमान सुनाते हुए गाँव की एक नाबालिग लड़की की शादी उसके ही गांव के एक युवक के साथ अवैध सम्बन्ध होने का गंभीर आरोप लगा कर करा दी है। कहा यह भी जा रहा है कि पंचायत के पंचों ने यह मनमाना फैसला पनियरा पुलिस के इशारे पर किया है। इस बात का सहज अंदाज़ा पीड़ित नाबालिक लड़की के द्वारा दिए गए स्थानीय थाने में तहरीर पर एक सप्ताह बाद भी आरोपीयों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज न होने से लगाया जा सकता है। 
loading...
महराजगंज जिले के पनियरा थाना क्षेत्र के बहरामपुर गांव की है। यह शादी एक अगस्त 2019 को सुबह छः बजे गांव के एक मंदिर में  कराई गई है। जिसमें पंचों के दबाव के बाद दूल्हा – दूल्हन ने गाँव के एक पुराने मंदिर के बरामदे में ही एक-दूसरे को माला पहनाई इसके बाद पुजारी ने कुछ रस्में अदा कर चंद मिनटों में ही फेरे करा दिए। बस शादी पूरी हो गई। शादी की बात पुख्ता हो जाए इसके लिए दूल्हा-दूल्हन के साथ ही पंचायत ने अलग वीडियो रिकार्डिंग से इस अजीबो गरीब शादी की रिकार्डिंग कराई। यह वीडियो सरिता चौरसिया नाम की जिस लड़की की शादी का है, वह नाबालिग है और उसकी उम्र महज चौदह साल और एक विद्यालय में कक्षा 9वीं की छात्रा है। 
सरिता की शादी जिस शिवकुमार से कराई गई है, उस पर पंचायत ने नाबालिक सरिता के साथ अवैध सम्बन्ध होने का गंभीर आरोप लगाया है । इतना ही नहीं पंचायत ने लड़के और लड़की के पिता पर दबाव डालकर समझौते के कागज़ पर अंगूठा भी लगवा लिया है। जबरन शादी के बाद पीड़ित नाबालिक लड़की सरिता चौरसिया  ने अपने पिता व चाचा और गांव के प्रधान पति सहित अन्य लोगों पर जो गंभीर आरोप लगाया है उसे सुन कर आपके भी होश उड़ जाएंगे। पीड़िता ने पनियरा पुलिस को जो तहरीर दी है उसके अनुसार वह 1 अगस्त 2019 की रात्रि में लगभग 12 बजे अपने घर मे अकेले सोई थी। गांव के ही कुछ लोग उसके घर जा कर उसके कमरे का दरवाजा खुलवाया और कहा कि उसके पिता ने उसे उन लोगों के हाथों बेंच दिया है।
उसके साथ जबरन दुष्कर्म का प्रयास किया गया। जहां से वह एक आरोपी  के हाथ में दांतों से काटते हुए गांव में एक घर में छिप कर अपनी इज्जत बचा ली। सुबह होते ही उक्त लोग पता लगा कर उस घर भी पहुंच गये जहां बीती रात छिप कर अपनी इज्जत बचायी थी। उसी परिवार के एक युवक पर अवैध सम्बन्ध होने का गंभीर आरोप लगा कर पंचायत तुगलकी फरमान सुनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। आनन-फानन में पंचायत ने नाबालिक लड़की सरिता चौरसिया की शादी तो उस युवक के साथ जबरन करा दिया लेकिन उसे यह शादी मंजूर नहीं है। पंचायत की तुगलकी फरमान के खिलाफ सरिता चौरसिया ने जो आवाज उठाई है उसे लेकर गांव में हड़कंप मचा हुआ है।
आरोपी युवक शिव कुमार का कहना है कि उसके घर में देर रात गांव की सरिता चौरसिया भागते हुए आयी और उसके परिजनों से आप बीती बतायी तो उसके परिजन रात भर के लिए शरण दे दिए । उसके साथ भी अन्याय हुआ है। सबसे बड़ी बात यह है कि मामला पनियरा पुलिस के संज्ञान में आने के बाद से सरिता चौरसिया पर समझौता के लिए दबाव बनाया जा रहा है । लेकिन सरिता चौरसिया उक्त पंचायत के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए अड़ी हुई है। इस मामले में अपर पुलिस अधीक्षक आशुतोष शुक्ल ने कहा की मामला पुलिस के संज्ञान में है आरोपीयों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर न्यायालय में पेश किया जाएगा ।