महिला को पानीपुरी बेचने वाले से हुआ प्यार, और फिर आगे जो हुआ पढ़ कर हैरान हो जाएंगे, जानें..

प्यार कितना अंधा होता है इसके कई उदाहरण आपने देखे और पढ़े होंगे। में प्रेमी मर मिटने के लिए तैयार हो जाते है तो कई विफल प्रेमी आत्महत्या तक कर लेते है। ऐसा ही वाकिया सूरत में सामने आया है। एक विवाहिता पानीपुरी बेचने वाले से प्यार कर बैठी, लेकिन इसका अंजाम इतना बुरा हुआ कि तीन साल की बच्ची को अपनी मां खोनी पड़ी। विवाहिता को पत्नी के तौर पर रखने से प्रेमी ने इनकार कर दिया तो उसने फांसी लगा ली। सूरत के उधना पटेल नगर में विवाहिता अपने पति और तीन साल की बेटी के साथ रह रही थी। सुखी संसार में आग तब लगी, जब तीन साल पहले विवाहिता को पड़ोस में रहनेवाले और पानीपुरी बेचने वाले युवक के साथ प्यार हो गया। तीन साल से विवाहिता पति की गैरमौजूदगी में प्रेमी से मिलती थी। 
वह उससे इतना प्यार करने लगी थी कि उसने पति और बेटी को छोड़कर प्रेमी के साथ घर बसाने का निर्णय कर लिया। इस दौरान एक दिन जब पति नौकरी से दोपहर के वक्त अचानक घर लौटा तो पत्नी को पड़ोसी युवक के साथ अपने घर में पाया। पति ने उस वक्त पत्नी और युवक को फटकार लगाई। लेकिन, पत्नी ने साफ साफ कह दिया की वह जिससे प्यार करती है उसी युवक के साथ रहना चाहती है। पति ने भी इसके लिए पत्नी को मंजूरी दे दी। वह उस पानीपुरी बेचने वाले युवक से मिला और उससे पूछा तो उसने भी कहा कि दोनों तीन साल से एक दूसरे को प्यार करते है और घर बसाना चाहते है। लेकिन पानी पुरी बेचने वाला युवक बाद में मुकर गया और विवाहिता भी सबकुछ भूल कर पति के साथ रहने लगी। 
21 सितम्बर को विवाहिता घर को ताला मार कर लापता हो गई। परिजनों ने उसे ढूंढा तो पता चला की पानीपुरी बेचनेवाला युवक भी लापता है। दोनों की खोज की तो वह $कड़ोदरा में एक मकान से मिले। परिजनों ने विवाहिता को बहुत समझाया लेकिन, वह प्रेमी का साथ छोडऩे को तैयार नहीं थी। उधर, प्रेमी युवक ने उसे अपनाने से साफ इनकार कर दिया। आखिर पति के साथ घर लौटने के बाद विवाहिता ने 24 सितम्बर को पति और बेटी को मंदिर में दर्शन के लिए भेज दिया और घर में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।