मां को दवा देनी है साहब जाने दो, घर पहुंचा तो हो चुकी थी माँ की..., जानिए फिर क्या हुआ…..

बीमार माँ के लिए दवा लेने जा रहे बाईक सवार युवक को चेकिंग के लिए रोकना पुलिस के लिए आफत बन गया. समय से दवा नही मिलने पर बीमार माँ ने दम तोड़ दिया. जिसके बाद पुलिस के खिलाफ गुस्सा जाहिर करते हुए गांव वालों ने चौकी का घेराव कर दिया.
मामला बंदा जनपद के कमासिन थाने के रानीपुर गांव से जुड़ा है. वहा पर रहने वाला रामरुचि अपनी माँ शिव प्यारी के लिए दवा लेने जा रहा था. इस दौरान सिंहपुर पुलिस ने वाहन चेकिंग के दौरान रामरुचि को हेलमेट न पहनें होने पर रोक लिया. और एक हजार का चालान जमा करने को कहा. वह इस दौरान पुलिस वालों को बीमार माँ की दवा लाने की बात कह कर गुहार लगाता रहा, लेकिन पुलिस कर्मियो बैगेर जुर्माना भरे जाने से मना कर दिया.
उधर समय से दवा नही मिलने पर उसी माँ की सांसे थम गयी. घटना से गुस्साए ग्रामीण चौकी पहुँच गए और घेराव कर लिया. ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस के रोकने की वजह से महिला को दवा नहीं मिल पाई, और उसकी मृत्यु हो गयी. जबकि युवक लगातार पुलिस से याचना करता रहा. लेकिन पुलिस ने अमानवीयता दिखाई और युवक को चौकी में बैठाए रखा. वहीं दूसरी ओर स्थिति की गंभीरता को देखते हुए क्षेत्राधिकारी बबेरू भी मौके पर पहुँचे. और लोगो को समझाने का प्रयास किया.पुलिस अधिकारियों का कहना था कि एक साजिश के तहत पूरे मामले को तूल दिया गया है.