करवाचौथ का व्रत तुड़वाने नहीं पहुंचा पति तो पत्नी ने कर दिया कुछ ऐसा काम की...

करवा चौथ का व्रत रखने वाली 28 वर्षीय महिला रात भर पति के इंतजार में भूखी-प्यासी बैठी रही। सुबह तक पति उसका व्रत तुड़वाने नहीं पहुंचा तो वह दोनों बेटियों को लेकर रांझी थाने पहुंच गयी। वहां रोते हुए उसने ऊर्जा डेस्क की महिला आरक्षक राजकुमारी यादव से शिकायत की। इसके बाद पुलिस एक्टिव हुई। 
थाने में पति को बुलाया गया। वहां काउंसलिंग की गई तो इस दंपती के रिश्ते में घुली कड़ुवाहट दूर हो गयी और फिर आंसूओं के बीच दोनों ने एक-दूसरे के गिले-शिकवे दूर किए। थाने में ही मिठाई की व्यवस्था करायी गई। पति ने पुलिस के सामने ही पत्नी को मिठाई खिलाकर पानी पिलाया और उसका व्रत पूरा करवाया। इसके बाद यह दपंती बच्चों के साथ वहां से एक साथ घर गए।

कुछ दिनों से रिश्तों में आ गयी थी खटास

टीआई रांझी नीरज वर्मा ने बताया कि झंडा चौक मोहनिया निवासी सविता बर्मन की शादी नीलेश बर्मन से हुई है। उनकी दो बेटियां भी हैं। नीलेश प्राइवेट जॉब करता है। कुछ दिनों से दोनों के रिश्ते ठीक नहीं थे। नीलेश बर्मन पत्नी से नाराज था और उनकी आपस में बातचीत तक बंद थी। गुरुवार को करवा चौथ पर सविता ने व्रत रखा था।

रात भर पति का करती रही इंतजार
रिश्तों में मिठास न होने के बावजूद सविता ने नीलेश को मनाने की तमाम कोशिशें की। वह रात भर उसके इंतजार में बैठी रही। फोन लगाती तो वह काट देता। वह भी गुस्से में भूखी-प्यासी ही बैठी रही। सुबह वह रांझी थाने पहुंची। वहां ऊर्जा डेस्क के प्रयासों से न केवल इस दंपती के रिश्तों की खटास दूर हुई। बल्कि पति नीलेश भी पश्चाताप में आंसू बहाने लगा। पति-पत्नी के आंसूओं में उनके बीच की कटुता भी धुल गई।