बाल्टी में तड़प-तड़प कर चल बसा लड़का, हर माँ-बाप यह खबर जरूर पढ़ें...

सोमवार की शाम को जसराना के स्नेहनगर निवासी प्रेमनारायण की पत्नी पिंकी अपने घर पर कुछ काम कर रही थी एवं उसका 8 महीने का बेटा शौर्य घर में ही खेल रहा था। तभी किसी ने बताया कि पिंकी के खेत में आवारा पशु घुस आया है यह सुनते ही पिंकी उसे भगाने के लिए खेत की तरफ गई और अपने बेटे को घर में ही छोड़ दिया।
इसी बीच शौर्य खेलते हुए पानी से भरी बाल्टी के पास पहुंच गया और उसी में गिर गया। जब पिंकी घर होती तो उसने ₹100 इस हाल में देखकर शोर मचाया और कुछ समय बाद ही बेहोश हो गई। लोग बच्चे को डॉक्टर के पास ले गए जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया। बच्चे की मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया। शौर्य प्रेमनारायण का इकलौता पुत्र था। स्नेहनगर से आकर प्रेमनारायण ने नौ साल पहले रिंकी से शादी की थी। 
चार साल तक कोई संतान नहीं होने पर उसने रिंकी की बहन पिंकी से शादी की। प्रेमनारायण की एक बेटी पलक (4) और बेटा शौर्य (8) पिंकी से था। पिंकी ने आवारा जानवरों को भगाने के लिए खेत में चली गई और इसी दौरान इतनी दर्दनाक घटना घट गई। बच्चे की याद में माँ बार-बार बेहोश हो जा रही है। वहीं यह घटना उन माँ बाप के लिए एक चेतावनी है जो अक्सर मासूम बच्चो को कहीं भी खेलने के लिए छोड़ देते हैं।