अपने एरिया में 'काजल बॉय' के नाम से प्रशिद्ध था, लेकिन कुछ लोगों ने उसके साथ किया कुछ ऐसा की....

रायपुर. पुलिस के मुताबिक पंडरी में होटल पुनीत के पीछे गंगानगर की गली में रात करीब 3.30 बजे मोवा निवासी प्रिंस अग्रवाल लहुलूहान पड़ा मिला। उसकी सांसें चल रही थी। उसके दोनों जांघ से खून बह रहा था। मोहल्ले के ही दिनेश यादव ने उसे आंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया। सुबह उसकी मौत हो गई। इसके बाद दिनेश ने देवेंद्र नगर थाने में सूचना दी। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी। 
देर शाम तक पुलिस को प्रिंस की हत्या में नरेंद्र उर्फ विक्कू उडि़या के शामिल होने का पता चला। इसके बाद पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी। शाम को उसे सड्ढू से पकड़ लिया गया। आरोपी ने पूछताछ में हत्या करना स्वीकार किया। पुलिस के मुताबिक मृतक पंडरी कपड़ा मार्केट में न्यू जनरेशन कपड़े की दुकान में काम करता था। वह हमेशा अपनी आंखों में अधिक मात्रा में काजल लगाए रखता था। इस कारण मार्केट में उसे काजल बॉय कहते थे। मूलत: महासमुंद का रहने वाला है। 
अक्सर देर रात तक अपने दोस्तों के साथ शराब, जुआ और अय्याशी करता रहता था। गुरुवार-शुक्रवार की रात भी वह गंगानगर में कुछ विक्कू, दिनेश यादव व अन्य के साथ था। इस दौरान विक्कू और प्रिंस के बीच विवाद हो गया। दोनों नशे में थे। इसके बाद विक्कू ने चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिया। इसके बाद भाग गया। बाद में घायल प्रिंस को दिनेश ने आंबेडकर अस्पताल पहुंचाया। तड़के करीब 5 बजे उसकी मौत हो गई। इसके बाद दिनेश ने देवेंद्र नगर पुलिस को सूचना दी।