बेटी की शादी करना पड़ गया भारी, खिलाना पड़ गया गांव को 'चिकन और चावल' ! जानें कारण...

दरअसल, छत्तीसगढ़ में एक मां को अपनी बेटी की शादी कारण समाज की बुराइयों का सामना करना पड़ रहा है। बेटी ने अपने ही समाज के लड़के से शादी की थी, लेकिन यादव समाज ने इसे नकार दिया। समाज के लोगों ने महिला पर 11 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया। इसके साथ ही गांव के लोगों ने बकरा भात (मीट और चावल) खिलाने की मांग की। 
जिसके बाद महिला ने इसे भी पूरा किया, फिर भी समाज ने उसको बेदखल कर दिया। जिले के कलेक्टर और एसपी के पास महिला अपनी शिकायत लेकर पुहंची। आपको बता दे, यह घटना सरायपाली की रहने वाली महिला 'पीलीबाई' के साथ घटी। पीली ने बताया कि उसकी बेटी ने शादी की थी। समाज द्वारा इस शादी को लेकर बैठक बुलाई गई, और विरोध किया गया। 
महिला ने अपनी शिकायत में बताया कि समाज के गोवर्धन यादव, लखनलाल यादव, रथलाल यादव और मकुंदा यादव ने रुपए वसूले, मारपीट की और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। महिला की बेटी ने कोर्ट में शादी की थी, प्रेम प्रसंग का मामला बताकर समाज के लोग महिला के परिवार से दूरी बनाए हुए हैं।