घर के दरवाजे पर खड़ी थी पुलिस, पलंग के नीचे और पत्नी के पीछे छुपे हुए थे गुंडे

मुरैना में त्योहार पर गुंडे, बदमाशों की घेराबंदी के लिए पुलिस ने तडक़े गुंडे, बदमाशों के दरवाजे खटका दिए। अधखुली आंखों से दरवाजे पर पुलिस को देखकर बदमाशों की नींद उड़ गई, बचने का तरीका समझ में नहीं आया तो कोई पलंग के नीचे दुबक गया, तो किसी ने पत्नी की ओट में छिपने की कोशिश की। लेकिन उनकी चाल काम नहीं आई, पुलिस उन्हें घर से बाहर खींच लाई। तलाशी में तीन बदमाशों के घर से अवैध हथियार भी मिल गए। करीब तीन घंटे की तलाशी में 25 बदमाशों को थाने में लाकर बिठा लिया, फिर उनके अपराधों की कुंडली खंगाली, जिस पर जो अपराध मिला उसमें गिरफ्तार किया।
पुलिस ने रविवार को गुंडों से गुड मॉर्निंग ग्वालियर इलाके में की, इसके लिए सुबह 4:30 बजे ग्वालियर, जनकगंज, बहोड़ापुर और माधवगंज थाने का फोर्स ग्वालियर पहुंच गया। तय हुआ कि तानसेन नगर, घासमंडी और गोसपुरा इलाकों में रहने वाले वारंटी, गुंडे बदमाशों को सोते में पकड़ेंगे। करीब 35 अपराधियों के नाम पते की सूची लेकर पुलिस ने उनके दरवाजे खटकाने शुरू किए। उस समय ज्यादातर लोग नींद में थे।

पुलिस के कुंडी खटकाने पर नींद में आखें मलते हुए दरवाजे खोले। सामने पुलिस को देखकर सकते में आ गए। ग्वालियर टीआइ प्रीति भार्गव ने बताया छोटा बाजार में विपिन अग्रवाल का वारंट था, बहोड़ापुर पुलिस को भी विपिन की धोखाधड़ी के मामले में तलाश थी। जब उसके दरवाजे पर पहुंचे तो विपिन की पत्नी ने दरवाजे के सुराख से देख लिया कि पुलिस खड़ी है तो विपिन को पता चल गया। बचने के लिए वह पलंग के नीचे दुबक गया, उसके बाद पत्नी ने घर का दरवाजा खोला और कहा कि विपिन घर पर नहीं है। उसकी बात पर भरोसा नहीं किया, घर की तलाशी ली तो विपिन बेडरूम में पलंग के नीचे कोने में सिकुड़ा लेटा मिल गया। पुलिस उसे बाहर खींच लाई।

पत्नी को भेज दिया पुलिस के सामने 
टीआइ भार्गव ने बताया तीन टीमें एक साथ सर्चिंग के लिए रवाना हुई थीं। ज्यादातर बदमाशों के दरवाजा खटकाने पर उनकी पत्नियों ने गेट खोले। पति को बचाने के लिए पुलिस को अंदर घुसने से रोकने की कोशिश भी की, आशंका थी महिलाएं सर्चिंग में रोड़ा बन सकती हैं, इसलिए महिला फोर्स भी साथ में था। तमाम कोशिश के बाद बदमाश पति को बचाने की कोशिश करने वाली महिलाएं पुलिस को घर की तलाशी लेने से नहीं रोक सकीं। घेराबंदी में शराब के अवैध कारोबार में कालू उर्फ कालीचरण, शाहरुख, वारंटी बंटी शाक्य सहित भूपेन्द्र, रामनिवास, दौजी को अवैध हथियार और गुंडागर्दी में वांटेड गब्बर कुशवाह सहित करीब 20 लोगों को पकड़ा।