गाँव में प्रेम संबंध के बारे में हल्ला हो गया था, इसके बाद प्रेमी-प्रेमिका ने जो कदम उठाया जानिए

जालौन जिले के एक गांव में दोपहर के वक्त युवक और युवती ने अपने-अपने घरों में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जिससे गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पाकर सीओ माधौगढ़ राहुल पांडे और रामपुरा इंस्पेक्टर आरके सिंह पहुंचे और शवों को उतरवाकर पोस्टमार्टम भेजा। एएसपी डॉ अवधेश सिंह का कहना है कि गांव में दोनों के प्रेम प्रसंग की चर्चा है। जिसकी जांच पड़ताल की जा रही है। युवक और युवती दोनों ही अलग-अलग बिरादरी से भी है। थाना क्षेत्र के धूता गांव निवासी पंकज पुत्र सियाराम दोहरे ने शनिवार दोपहर अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 
अभी गांव के लोग पंकज के घर बाहर एकत्र ही हुए थे तभी कुछ ही दूरी पर रहने वाली रिचा पुत्री रामकुमार वाल्मीकि के भी फांसी लगाकर जान देने की सूचना फैल गई। इससे गांव वाले भी सकते में आ गए। सूचना पाकर पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और शवों को उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेद दिए। पुलिस के मुताबिक प्रथमदृष्ट्या मामला प्रेम प्रसंग का ही लग रहा है। आसपास के लोगों से पूछताछ में पता चला है कि छह माह पहले दोनों परिवारों के बीच प्रेम प्रसंग को लेकर पंचायत भी हुई थी।
जिसमें तय किया गया था कि वे दोनों अब कभी नहीं मिलेंगे। खासतौर पर लड़की का परिवार इसके सख्त खिलाफ था, क्योंकि दोनों ही परिवार अलग अलग बिरादरी के थे। इसके बाद भी दोनों युवक युवती न सिर्फ छिप छिप कर मिलते ही थे बल्कि चोरी छिपे मोबाइल से बातें भी किया करते थे। माना जा रहा है कि इसी पारिवारिक दबाव के चलते दोनों ने आत्महत्या का फैसला किया है। पुलिस का कहना है कि घरवाले आत्महत्या की कोई ठोस वजह नहीं बता पा रहे हैं। न कोई आरोप प्रत्यारोप ही लगा रहे हैं। तहरीर के आधार पर ही मामला दर्ज किया जाएगा।