किसी ने भी सोचा नहीं था कि महिला के साथ पति ही कर देगा ऐसा गलत काम, और फिर जो हुआ...

शाहजहांपुर के खुटार थाना क्षेत्र के गांव नवदिया मनकंठ में 10 अगस्त को स्नेहा मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उसके पति रोहित मिश्रा ने गांव के ही 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें पुरुषोत्तम नाम का व्यक्ति अभी तक जेल में है। पुलिस विवेचना में अब खुलासा हुआ है कि रोहित मिश्रा ने ही अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा था। उसकी गोली मारकर हत्या की थी। रोहित के परिवार की ही एक अन्य महिला से अवैध संबंध थे। इसकी जानकारी पत्नी स्नेहा को हो गई थी और वह उसका विरोध करती थी। इस कारण रोहित ने 10 अगस्त की शाम को अपनी पत्नी को मौत के घाट उतार दिया था।
नवोदया मनकंठ निवासी रोहित मिश्रा की शादी 22 जून को बिलसंडा के सरोज मिश्रा की बेटी स्नेहा मिश्रा से हुई थी। इसके बाद स्नेहा अपने मायके चली गई थी। 10 अगस्त को बाइक पर बैठाकर रोहित अपनी पत्नी स्नेहा को लेकर गांव नवदिया मनकंठ आ रहा था, तब रात 8:30 बजे गांव से करीब 500 मीटर दूर स्नेहा के सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। रोहित ने बताया कि गांव के ही रहने वाले पुरुषोत्तम यादव समेत चार लोगों ने आकर उसकी पत्नी की हत्या की और उसे भी गोली मारकर घायल किया।
परिस्थितिजन्य सबूत रोहित के खिलाफ थे, लेकिन पुलिस के पास कोई ठोस सबूत नहीं था। इस बीच काफी दबाव बनाए जाने पर पुलिस ने नामजद किए गए पुरुषोत्तम यादव को जेल भेज दिया, लेकिन पुलिस की विवेचना जारी रही। करीब 2 माह बाद पुलिस ने इस पूरे मामले का सोमवार को खुलासा किया और बताया कि रोहित ने ही अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा था। इस मामले में खुटार पुलिस ने बताया कि जब रोहित अपनी पत्नी को बाइक पर बैठाकर गांव ला रहा था तो 500 मीटर दूर गन्ने के खेतों के पास रूका और अपनी पत्नी के बाल पकड़कर गिरा दिया। 
एक हाथ से बाल पकड़े रहा दूसरे हाथ से उसने तमंचा निकालकर पत्नी के सिर से सटा दिया। पत्नी ने जान बचाने की कोशिश की, लेकिन राजीव ने उसे सिर में गोली मार दी, गोली राजीव के हाथ रगड़ते हुई निकली थी।  तब रोहित ने शोर मचाया कि गांव के पुरुषोत्तम समेत 4 लोगों ने उसकी पत्नी को गोली मार के हत्या कर दी और उसे भी घायल कर दिया। रोहित के अवैध संबंध परिवार की ही  एक महिला से थे, जिसकी जानकारी स्नेहा को थी, स्नेहा ने देखा भी था, उसने विरोध किया तब रोहित ने उसे मौत के घाट उतारा।