इंसानियत की हद! स्कूल में ले जाकर दो सगी बहनों की इज्जत को किया तार-तार, जानिए फिर क्या हुआ...

दो नाबालिग सगी बहनों से पांच युवकों ने स्कूल परिसर में सामूहिक दुष्कर्म किया। करीब ढाई घंटे तक दरिंदगी के बाद सभी उन्हें लहूलुहान अवस्था में छोड़कर भाग निकले। उनकी चीख सुनकर बस्ती का एक युवक वहां पहुंचा और उन्हें स्कूल से बाहर लाया। 
पुलिस ने मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। केंदुआ थाना क्षेत्र की गोधर रवानी बस्ती के पीछे नयाडीह कुसुंडा मध्य विद्यालय परिसर में मंगलवार की रात दोनों बहनों को आकाश धोखे से बुलाकर ले गया था। परिजनों ने बुधवार की सुबह केंदुआडीह पुलिस को सूचना दी और शिकायत दर्ज कराई। शाम में आकाश को दबोच लिया गया।

धोखे से बुलाया था
दोनों बहनें दूसरों के घरों में चौका-बर्तन करती हैं। उनके पिता फेरी का काम करते हैं। मंगलवार शाम सात बजे के आसपास दोनों काम कर लौट रही थीं। तभी उनके परिचित गोधर रवानी बस्ती के आकाश ने उन्हें फोन किया। आकाश से एक माह पूर्व ही परिचय हुआ था। उसने जरूरी काम का झांसा देकर दोनों को बुलाया। जब वे आकाश से मिलीं तो वह उन्हें स्कूल में ले गया। 
वहां उसके चार-पांच साथी पहले से छिपे हुए थे। इसके बाद आकाश उनके साथ जबरदस्ती करने लगा। तब तक उसके साथी भी आ गए। सबने दुष्कर्म किया। उसके बाद सभी भाग गए। वहां से दोनों बहनें रात करीब 9.30 बजे घर पहुंचीं। आकाश हाइवा चालक है। वह एक आपराधिक मामले का आरोपित है। दरिंदगी में शामिल कुछ अन्य युवक भी विभिन्न मामलों में नामजद हैं।