प्रेमिका के घर गया था चाचा बनकर, लोगों को पता चल गया और फिर जो हुआ, जानिए....

समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में अपनी शादीशुदा प्रेमिका के ससुराल पहुंचे एक सिरफिरे आशिक को लोगों ने जमकर पिटाई कर दी। उसके चेहरे पर कालिख पोत कर घुमाया भी। बाद में उसे पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस युवक और उसकी विवाहिता को पूछताछ के लिए थाना ले गई है। स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक सिरफिरे आशिक अंगारघाट थाना क्षेत्र के एक गांव का रहनेवाला बताया जाता है। 
लोग बताते हैं कि वह सारी हदें पार कर रात में प्रेमिका से मिलने उसकी ससुराल पहुंच गया। उसकी प्रेमिका उसी के गांव की थी। शादी के बाद दोनों अलग हो गए। एक-दूसरे से दूरी जब बर्दाश्त नही हुई तो वह अपनी शादीशुदा प्रेमिका की ससुराल पहुंच गया। पिटाई के बाद ग्रामीणों ने विवाहिता के माता-पिता को सूचना देकर बुलाया और लड़के के माता-पिता को भी खबर दी। परंतु, लड़के के माता-पिता नहीं पहुंचे। विवाहिता के माता-पिता सरपंच के साथ पहुंचे थे। ग्रामीणों के समक्ष दोनों पक्ष ने अपना रिश्ता कायम रखने से इन्कार किया। ग्रामीणों के समक्ष सादा कागज पर बांड बनाया गया। कुछ लोगों का कहना था कि रिश्ता विच्छेद का बॉन्ड सादा कागज पर नहीं, बल्कि स्टांप पेपर पर बनाया जाए। उसके बाद स्टांप पेपर मंगाया गया। 
इसी बीच मौका को देखते हुए विवाहिता के पिता और उनके साथ आए सरपंच वहां से निकल गए। अंत में ग्रामीणों ने इसकी सूचना विभूतिपुर थाने को दी। सूचना मिलते ही पुलिस पदाधिकारी जोगेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। सिरफिरे आशिक और विवाहिता को अपने साथ थाने ले गए। लोगों ने विवाहिता की शादी करीब चार महीने पूर्व होने की बात बताई है। थानाध्यक्ष कृष्ण चंद्र भारती ने बताया कि दोनों से पूछताछ की जा रही है। किसी प्रकार का कोई आवेदन नहीं मिला है। आरोपित युवक अपने आप को विवाहिता के रिश्ते में गांव का चाचा बताया है।