लड़की अपने प्रेमी से बोली-मैं पेट से हूं, शादी कर लो...और इसके बाद जो हुआ

सूरजपुर जिले के रमकोला थानांतर्गत ग्राम बड़वार के जंगल में फांसी पर लटकी मिली किशोरी की लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। किशोरी ने आत्महत्या नहीं की थी बल्कि उसकी हत्या कर आत्महत्या का रूप देने पिता-पुत्र द्वारा फांसी पर लटका दिया गया था। किशोरी ने अपने नाबालिग प्रेमी से कहा था कि वह प्रैग्नेंट है, शादी कर लेते हैं। इतना सुनते ही किशोर ने अलग-अलग जाति का हवाला देते हुए शादी से इनकार कर दिया। जब किशोरी ने शादी के लिए दबाव बनाया तो उसने उसके ही स्कार्फ से गला दबाकर हत्या कर दी। यह बात किशोर ने घर जाकर पिता को बताई तो वह घटनास्थल पहुंचा। फिर पिता-पुत्र ने उसे फांसी से लटका दिया। 
मामले में पुलिस ने हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए पिता व उसके नाबालिग पुत्र को गिरफ्तार कर लिया है। रमकोला थानांतर्गत बड़वार के हरइया जंगल में एक किशोरी की फांसी पर लटकती लाश मिली थी। किशोरी के पिता ने थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने बताया था कि उसकी बेटी 20 नवंबर की दोपहर अपनी बहन को टॉयलेट जाने की बात कहकर निकली थी। इसके बाद से नहीं लौटी थी। दूसरे दिन गांव के ही कैठु अगरिया ने उसे बेटी के फांसी पर लटका शव मिलने की जानकारी उसे दी। पीएम रिपोर्ट में मामला हत्या का होने के बाद पुलिस की स्पेशल टीम विवेचना में जुटी थी। इसी बीच पुलिस ने इस मामले में ग्राम बड़वार के ही पिता व उसके नाबालिग पुत्र को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की पूछताछ में दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

नाबालिग ने मिलने बुलाया था जंगल
पुलिस ने बताया कि अपचारी बालक व मृतिका के बीच प्रेम संबंध था। उसने किशोरी को 20 नवंबर को हरइया जंगल में मिलने बुलाया था। यह बात किशोरी ने अपनी बड़ी बहन को बताई थी। यहां किशोरी ने किशोर से कहा कि वह प्रैग्नेंट है, वह उससे शादी कर ले। इस पर किशोर ने कहा कि दोनों अलग-अलग जाति के हैं, शादी नहीं हो सकती। जब किशोरी ने दबाव बनाया तो उसके ही स्काफ से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी।

पिता ने फांसी पर लटकाया
हत्या करने के बाद किशोर ग्राम बड़वार स्थित अपने घर पहुंचा। यह बात उसने अपने पिता को बताई तो पिता उसके साथ जंगल में पहुंच गया। फिर दोनों ने उसके ही स्कार्फ से पेड़ पर उसे फांसी पर लटका दिया। पिता-पुत्र की मंशा इसे आत्महत्या का रूप देने की थी। पुलिस ने बताया कि इसके पूर्व आरोपी पिता ने मृतिका के परिजनों को गाली-गलौज करते हुए मारपीट की धमकी दी थी।