25 साल तक नाम बदलकर कोटा में था शातिर आदमी, जानिए इसने ऐसा क्या किया...

जयपुर के गलता गेट थाना पुलिस ने 25 साल पहले चोरी के एक मामले में नाम बदलकर कोटा में टेलर का काम कर रहे आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस अवधि में आरोपी ने शादी भी कर ली और सात बच्चों का पिता भी है। डीसीपी राजीव पचान ने बताया कि कोटा के उद्योग नगर स्थित इन्द्रा गांधी नगर निवासी 48 वर्षीय साने आलम को गिरफ्तार किया गया है। 
आरोपी मूलत: उत्तर प्रदेश के शिकोहाबाद का रहने वाला है और वर्ष 1995 में आरोपी अपने दो साथियों के साथ गलता गेट स्थित सैय्यद कॉलोनी निवासी जाफर अली के घर के ताले तोड़ दो तोला सोने का हार, दो तोला की चेन, सोने का टीका, सोने के बुंदे, सोने की नथ, सोने-चांदी के जेवर व 30000 रुपए चुरा ले गया था। 27 अप्रेल 1995 में इस संबंध में मामला दर्ज कराया गया था। अनुसंधान के बाद आरोपी के साथी मजिद खां व इस्तयाक को गलता गेट थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर सामान भी बरामद किया। लेकिन आरोपी भाग निकला था। तभी से उसकी तलाश थी। आरोपी पर दो हजार रुपए का इनाम भी घोषित था।

बहन ने मना किया, भाई से पूछताछ में पता चला
डीसीपी पचार ने बताया कि आरोपी के उत्तर प्रदेश स्थित गांव पुलिस टीम पहुंची, लेकिन आरोपी साने आलम वहां नहीं पहुंचा। परिजनों ने उसके संबंध में कोई जानकारी नहीं दी। आरोपी की एक बहन जयपुर में रह रही है। बहन ने भी पूछताछ में आरोपी के संबंध में इनकार कर दिया। 25 साल की तलाश में पुलिस को खो नागोरियान क्षेत्र में आरोपी के भाई नूर मोहम्मद के रहने की जानकारी मिली। पुलिस टीम ने नूर मोहम्मद को तलाश कर उससे गहनता से पूछताछ की। तब जाकर नूर मोहम्मद ने बताया कि आरोपी कोटा में नाम बदलकर टेलर का काम कर रहा है। शादी भी कर ली और उसके सात बच्चे हो गए।