आधी रात लडक़ी के साथ संदिग्ध हालत में मिले झारखंड के 2 लड़के, पुलिस ने पकड़ा तो सामने आई ये सच्चाई....

अम्बिकापुर कोतवाली पुलिस ने बुधवार की रात गुरुद्वारा चौक से दो युवक को एक किशोरी के साथ पकड़ा है। युवक किशोरी को नागपुर से भगा कर पलामू झारखंड ले जा रहे थे। पुलिस किशोरी को फिलहाल सखी सेंटर में रख कर परिजन के आने का इंतजार कर रही है। झारखंड के पलामू जिले के ग्राम तरहसी निवासी 19 वर्षीय अरमान अंसारी पिछले 4-5 महीने से महाराष्ट्र के नागपुर थाना अंतर्गत सिंधी में टाइल्स लगाने का काम करता था। इस बीच पड़ोस की एक नाबालिग लडक़ी से उसे प्यार हो गया और वह दो दिन पूर्व युवती को भगाकर ट्रेन से रायपुर लाया। इसके बाद बस से कटघोरा तक आने के बाद अरमान के पास पैसा पैसा खत्म हो गया। 
इस पर अरमान ने अपने दोस्त डालटेनगंज निवासी रुकमन को फोन कर कटघोरा बुलाया। रूकमन बाइक से कटघोरा पहुंचा और दोनों को लेकर बुधवार की रात को अंबिकापुर पहुंचा। यहां देर रात व मौसम खराब होने के कारण बाइक से झारखंड जाने में परेशानी हो रही थी। इस कारण सभी अंबिकापुर आ गए। ठंड से बचने के लिए तीनों अलाव जलाकर थाना चौक के समीप ताप रहे थे। इस दौरान कोतवाली पुलिस पेट्रोलिंग करते हुए वहां पहुंची तो साथ में लडक़ी होने पर युवकों पर पुलिस को संदेह हुआ। पुलिस वहां रुक कर युवकों से पूछताछ करने लगी। पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछे जाने पर युवकों ने सारी बात बता दी।

नागपुर थाने में गुमशुदगी है दर्ज

मामले में किशोरी के परिजन ने उसके गायब होने की शिकायत नागपुर थाने में दर्ज कराई है। कोतवाली पुलिस ने किशोरी को सीडब्ल्यूसी के सुपुर्द किया। सीडब्ल्यूसी के निर्देश पर बालिका को एमएसएसव्हीपी बालिका गृह में रखा गया है। पुलिस फिलहाल किशोरी के परिजन के आने का इंतजार कर रही है। पुलिस दोनों युवकों को पकड़ कर थाने ले आई। गुरुवार की दोपहर पुलिस द्वारा अरमान को खाना दिया गया तो उसने खाने से इंकार कर दिया। अरमान का कहना था कि वह अपनी प्रेमिका के साथ ही खाना खाएगा।