नौकरानी ने मकान मालकिन से कहा; घर का सारा काम कर दूंगी, सेवा भी करुंगी, और फिर जानें क्या हुआ...

रायगढ़. काम मांगने आई महिला को मकान मालकिन ने पहले दिन चलता कर दिया। इसके कुछ दिन बाद दोबारा आई और कहने लगी मैं घर का सारा काम कर दूंगी, आपके बेटे की भी सेवा कर दूंगी। इनके बातों में आकर मकान मालकिन ने 200 रुपए रोजी के हिसाब से रख लिया। फिर नौकरानी ने इस घटना को अंजाम दिया। घरघोड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत नौकरानी ने घर में रखे करीब डेढ़ लाख के जेवरात को पार कर दिया। घर मालकिन की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सावित्री सिदार शर्मा चौक घरघोड़ा में रहती है। 
करीब तीन माह पूर्व ग्राम पतराटोली निवासी उत्तरा सिदार इसके घर काम ढूंढऩे आई थी। सावित्री सिदार ने बाद में काम करने के लिए आना बोली थी। छह नवंबर को उत्तरा सिदार दोबारा आई और फिर से काम मांगने लगी। चूंकि सावित्री का बेटा पैर से विकलांग है ऐसे में उत्तरा सिदार बोली कि मैं घर का सारा काम कर दूंगी। साथ ही बेटे की भी सेवा करुंगी। ऐसे में सावित्री ने उत्तरा की बातों में आकर उसे 200 रुपए की रोजी में काम पर रख लिया। वहीं उत्तरा के आधार कार्ड और स्कूल की अंक सूची को अपने पास रख लिया। सात नवंबर की शाम शाम करीब साढ़े पांच बजे उत्तरा अपनी मालकिन से बोली कि वह अपने घर वालों को बता कर पुन: काम पर लौट आएगी। 
इसके बाद वह चली गई। आठ नवंबर की सुबह सावित्री अपने घर के आलमारी को कुछ जेवर पहनने के लिए खोली तो देखी कि उसमें रखा सोने का एक झुमका, सोने का कर्ण फूल, सोने का दो मंगल सूत्र लाल मोती से गूंथा हुआ, सोने का पदक माला गायब था। इसकी कीमत एक लाख 40 हजार रुपए बताई जा रही है। इसके अलावा उत्तरा सिदार का आधार कार्ड एवं अंक सूची जिसको वह आलमारी में रखी थी वह भी नहीं था। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।