गलत काम करने का पत्नी पर आरोप लगाया और फिर किया ऐसा गलत काम, जानिए...

फर्रुखाबाद के मंझोला गांव निवासी शराबी व जुआरी पति ने पहले पत्नी का गला घोटने का प्रयास किया। बाद में उस पर केरोसिन डालकर जिंदा फूंक डाला। शोर व आग की लपटें देखकर पड़ोसी व महिला के ससुर पहुंचे तो पति वहां से भाग गया। लोगों ने भीगे बोरे आदि महिला पर डाले, लेकिन तब तक उसने दम तोड़ दिया। युवक की पहली पत्नी ने भी पति से तंग आकर जहर खाकर जान दे दी थी। बच्चों ने पिता पर मां को जलाने का आरोप लगाया। गांव मंझोला निवासी घनश्याम (35) शराब व जुए का आदी है। करीब 6 वर्ष पहले उसकी पहली पत्नी विमला देवी ने उसकी आदतों से तंग आकर जहर खाकर जान दे दी थी। जनपद एटा के थाना जैथरा क्षेत्र के गांव तिरगमा निवासी मायके वालों ने घनश्याम पर कार्रवाई के लिए कोर्ट में मुकदमा डाला था। बाद में समझौता हो गया था।
पहली पत्नी से अनीस, रितिक, निर्दोष बच्चे हैं जो उस समय छोटे-छोटे थे। एक वर्ष के बाद घनश्याम ने जिला कुशीनगर की सुनीता देवी (25) से दूसरी शादी कर ली। सुनीता ने सौतेलों बच्चों का अपने बच्चों की तरह पालन पोषण किया। उसके कोई बच्चे नहीं हैं। सबसे छोटा निर्दोष (8) अपनी बुआ के घर गांव पति के नगला में रहता है। घनश्याम गांव में खेती करता है। आरोपी के पिता के मुताबिक घनश्याम पत्नी सुनीता पर वह अवैध संबंधों का आरोप लगाता और मारपीट करता था। सोमवार रात वह नशे में घर पहुंचा और मारपीट करने लगा। उसने सुनीता का पहले गला घोटने का प्रयास किया। बाद में केरोसिन डालकर आग लगा दी। जलती हुई सुनीता कमरे से निकलकर आंगन की ओर भागी। शोर होने पर छत पर बने कमरे में सो रहे सुनीता के ससुर दाताराम, बच्चे अनीश, ऋतिक जाग गए और पड़ोसी भी पहुंच गए।
सुनीता पर भीगे बोरे डालकर बचाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो गई। इस बीच पति घनश्याम मौके से फरार हो गया। सुनीता के जेठ धर्मेंद्र ने पुलिस को सूचना दी। इस पर कोतवाल डॉ. विनय प्रकाश राय व एसआई श्वेता शर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचीं और छानबीन की। मौके पर टीवी टूटा और बोरे जले पड़े थे। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पूछताछ में बच्चों ने पिता घनश्याम पर मां सुनीता का गला घोटने का प्रयास करने और जलाने का आरोप लगाया। पर बाद वह गुमसुम हो गए। इंस्पेक्टर डा. विनय प्रकाश राय ने बताया घटना के समय कोई वहां मौजूद नहीं था। सभी घटना के बाद वहां पहुंचे हैं। महिला के मायके में सूचना दी जाएगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद स्थित स्पष्ट होगी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।