चौथी बार घर से भागी लड़की तो पकड़कर लोगों ने किया ऐसा काम, जानिए...

गोंडा जिले में धानेपुर पुलिस ने क्षेत्र के ही एक गांव के प्रेमी-प्रेमिकाओं की शादी कराई है जिस पर पुलिस की सराहना की जा रही है। पुलिस बराती की भूमिका में रही है। दरअसल धानेपुर थाना क्षेत्र के ही ग्राम पंचायत ख्वाजा जोत के मजरा सेवक पुरवा के रहने वाले एक सजातीय प्रेमी युगल के बीच कई महीने पहले चोरी-चोरी चुपके चुपके प्यार परवान चढ़ गया और यह दोनों दिल आपस में मिलने लगे 6  माह के भीतर दोनों प्रेमी तीन बार भागने का प्रयास किया। लेकिन हर बार पकड़े गए। अंतिम बार जब भागे तो थानाध्यक्ष की पहल से दोनों प्रेमी-प्रेमिका वैवाहिक बंधन में बंध गए है।
थानाध्यक्ष रतन कुमार पांडेय ने बताया सेवक पुरवा गांव के रहने वाले राजू का गांव के ही रहने वाली एक निशा नाम की लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था जिस पर दोनों का छुप-छुपकर मिलना जारी था दोनों कई बार भागने का असफल प्रयास भी किया। हालांकि यह मिलन दोनों परिवारों को नागवार गुजर रहा था। 4 नवंबर की रात को एक बार फिर यह प्रेमी युगल घर से निकलकर और अपनी दुनिया बसाने के लिए निकल पड़े। इस बात की भनक दोनों परिवारों को लगी तो सूचना पुलिस को दी गई जिस पर पुलिस के सक्रिय होने पर पुलिस ने गोंडा रेलवे स्टेशन से प्रेमी प्रेमिका को धर दबोचा दोनों पक्षों को बुलाया गया।
इसके बाद आखिरकार 5 नवंबर को धानेपुर थाने में ब्रह्म देवस्थान के बाद ही दोनों वैवाहिक बंधन में बंध गए यहां पर पुलिस ने बराती की भूमिका निभाई। थानाध्यक्ष की प्रेरणा से थाने के सभी पुलिसकर्मियों ने कुछ ना कुछ भेंट भी दिया। वैवाहिक बंधन में बंधने के बाद प्रेमी युगल ने थानाध्यक्ष का धन्यवाद दिया इस मौके पर उप निरीक्षक बृजेश गुप्ता सतीश सिंह तारकेश्वर सिंह बिसेन एडमिरल गंगादीन यादव समेत थाने के पुलिसकर्मी ग्राम प्रधान जगदीश पांडे समेत गांव तथा आसपास क्षेत्र के लोग भी मौजूद रहे।