ऐसी प्रेम कहानी, जिसके बारे में जानने के बाद खुद के बच्चों से भी आपका विश्वास उठ जाएगा....

हरियाणा में फतेहाबाद रतिया में रत्नगढ़ के पास नहर के पास सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा थी। नहर में एक कार पड़ी थी और उसमें से लाशें निकाली जा रहीं थी। कार से तीन लाशें निकलीं। जिसमे से एक महिला थी और दो पुरुष थे। लोग आपस में बातें कर रहे थे किन्तु कोई कारण स्पष्ट नहीं हो रहा था। क्या हुआ था उन तीनों के साथ , क्या उनका एक्सीडेंट हुआ था या सच कुछ और ही था। आइये पूरी घटना को जानते हैं।
घटना स्थल से 12 किलोमीटर की दूरी पर एक गाँव है अलीपुर खेड़ा। जिसमें निरंजन अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ रहता था। निरंजन का एक लड़का था जिसका नाम अर्श था और एक बेटी थी जिसका नाम अंजली (बदला हुआ नाम ) था। पूरे परिवार में खुशियों का महौल था किन्तु शनिवार 2 नवंबर 2019 को उनकी खुशियों को नजर लग गई। शनिवार की रात अंजली अपने एक प्रेमी के साथ घर से भाग गई। सुबह जब सभी उठे तो देखा अंजली गायब थी। 
निरंजन ने पहले से ही अंजली के बारे में जानता था। इस लिए उसने बिना किसी जांच पड़ताल किये बहुत ही कठोर फैसला ले लिया। रविवार को निरंजन ने अपनी पत्नी और बच्चे को साथ लिया और कार द्वारा बाहर निकल गया। अपने गाँव से 12 किलोमीटर दूर रतिया इलाके में एक नहर में उसने बिना कुछ सोंचे ही कर पानी में कुदा दी। पानी में कार के गिरने से तीनो की मौत हो गई। दो दिनों तक जब निरंजन को उसके भाई ने नहीं देखा तो उसने पुलिस में रिपोर्ट लिखा दी। 
सोमवार को ही पुलिस को घटना की जानकारी मिल गई। पुलिस ने तीनों लोगों के शव नहर से निकाले, जिनकी शिनाख्त निरंजन के भाई द्वारा की गई। पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। अंजली अब भी अपने प्रेमी के साथ फरार है। पुलिस घटना की जांच और अंजली की तलाश कर रही है। आज अंजली कितनी भी खुश हो किन्तु उसने अपनी प्रेम कहानी को अपनों के ही खून से लिख दिया है।