भाभी ने घर बुलाया तो कमरे में ही भाई ने किया ऐसा गलत काम, और फिर जो हुआ...

आगरा जिले में 12 दिसंबर से लापता चल रहे डौकी क्षेत्र के नगला टांक निवासी युवक की हत्या कर शव को बोरे में डालकर झरना नाले के पास फेंक दिया गया था। हत्या उसके तहेरे भाई ने पत्नी के साथ मिलकर अपने घर पर की थी। मंगलवार को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया। उसकी निशानदेही पर ही युवक की लाश बरामद हुई। आरोपी की पत्नी फरार है। पुलिस का कहना है कि आरोपी को शक था कि युवक उसकी पत्नी पर डोरे डाल रहा है। नगला टांक निवासी अजय (25) की गुमशुदगी की रिपोर्ट 14 दिसंबर को उसके पिता राम अवतार ने छत्ता थाना में दर्ज कराई थी। अजय छत्ता क्षेत्र में ही पल्लेदारी का काम करता था। छत्ता के ही जीवनी मंडी की डाक वाली गली में उसके तहेरे भाई विजयपाल का घर है। 

विजयपाल से पहले से थी खटपट
अजय पल्लेदारी कर घर नहीं लौटा था। पुलिस ने अजय के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई तो उसमें ऑखिरी कॉल विजयपाल की पत्नी प्रेमलता की मिली। अजय के पिता ने इस बारे में बताया कि विजयपाल से उसकी खटपट चल रही थी। इस कारण पुलिस को शक हो गया कि हो न हो विजयपाल और उसकी पत्नी को हत्या के बारे में कुछ जानकारी है। विजयपाल की पत्नी 13 को ही घर से चली गई थी। उसका मोबाइल स्विच ऑफ था। इस कारण शक पुख्ता हो गया। पुलिस ने बताया कि विजयपाल ने अजय और प्रेमलता को हंसी मजाक करते देख लिया था। उसने प्रेमलता को डांटा और कहा कि अजय से बात न किया करे। अजय फिर भी उसके घर आता था। प्रेमलता से पूछा तो उसने कह दिया कि अजय मना करने पर भी हंसी मजाक करना बंद नहीं कर रहा। 

पत्नी ने फोन कर घर बुलाया
इस पर 12 दिसंबर की रात विजयपाल के प्रेमलता से उसे फोन कर घर बुलाया। अजय घर आते ही बिस्तर पर लेट गया। प्रेमलता से मीठी-मीठी बातें करने लगा। विजयपाल पहले से पर्दे के पीछे बांक लिए खड़ा था। इशारा मिलते ही प्रेमलता से अजय के हाथ पकड़ लिए, विजयपाल ने बांक से सिर, चेहरे और गर्दन पर ताबड़तोड़ प्रहार कर हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को पहले साड़ी से लपेटा, फिर बोरे में डाला। प्रेमलता ने बोरा पकड़ा, विजयपाल ने बाइक चलाई। शव को झरना नाला के पास फेंक दिया। घर आकर प्रेमलता ने खून साफ कर दिया, कमरा धो दिया। सीओ छत्ता उदयराज सिंह ने बताया कि अजय की हत्या कर शव को झरना नाला केपास फेंका गया था। शव बरामद कर लिया है। आरोपी विजयपाल को गिरफ्तार किया है। उसकी पत्नी फरार है। वहीं हत्या में प्रयुक्त बांक और बाइक को बरामद कर लिया है।