ट्रक में भरकर जा रहा था 12 करोड़ का खुफिया सामान, इन दोनों ने बीच में ही पार कर लिया, और फिर...

आंतरिक खुफिया एजेंसी के सामान को लेकर बहुत बड़ी चूक सामने आई है। दो जनों ने इंटेलीजेंस का खुफिया सामान चोरी कर लिया। इस सामान की कीमत 12 करोड़ रुपए से अधिक है। गनीमत यह रही कि पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार भी कर लिया। अलवर के भिवाड़ी पुलिस जिले की बहरोड़ पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आंतरिक सुरक्षा के लिए लाए जा रहे साढ़े 12 करोड़ के इलेक्ट्रोनिक सामान, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर को बीच रास्ते में चोरी करने के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर माल बरामद कर लिया है। यह सामान हरियाणा के बिलासपुर से आंतरिक एजेंसी के जयपुर कार्यालय में सप्लाई के लिए जा रहा था, जो कि बीच रास्ते में ही गायब हो गया।
पुलिस ने 24 घंटे में ही इस वारदात का खुलासा करते हुए ट्रक चालक यूपी के फैजाबाद के गुपतार घाट निवासी पिंटू पुत्र महेश और ट्रक के मालिक धमेन्द्र सिंह निवासी काली पहाड़ी, ततारपुर चौराहा को गिरफ्तार किया है। ट्रक चालक पिंटू ने माल गायब कर बहरोड़ थाने में ट्रक चोरी होने की रिपोर्ट दर्ज करा दी। पुलिस अधीक्षक अमनदीप सिंह कपूर ने बताया कि 4 दिसंबर को ट्रक चालक पिंटू ने बहरोड़ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि 3 जनवरी को शाम 6 बजे वो ट्रक लेकर बिलासपुर से जयपुर के लिए रवाना हुआ था, रात साढ़े 8 बजे अलवर रोड के पास गाड़ी को खड़ा कर अपने कमरे में आराम करने व खाना खाने के लिए चला गया।

सुबह करीब 2 बजे गाड़ी लेने आया तो गाड़ी नहीं मिली। उसने पुलिस को सूचना दी और आस-पास तलाश किया तो गार्ड ने बताया कि आपकी गाड़ी रात 11 बजे वहां से निकल चुकी है। 5 तारीख को ओम ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक महिपाल यादव व बिरेन्द्र दहिया ने पुलिस को बताया कि जो ट्रक चोरी हुआ है उसमें करीब साढ़े 12 करोड़ का आन्तरिक सुरक्षा का सामान है, सूचना पर बहरोड़ थानाधिकारी जितेन्द्र सोलंकी व पुलिस टीम की ओर से ट्रक की तलाश शुरु की गई।

तलाश के दौरान ट्रक मालिक को बुलाया गया, लेकिन वो नहीं आया और ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिकों को भी गुमराह करता रहा। बाद में ट्रक के मालिक ने ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिकों को बताया कि ट्रक माल सहित बहरोड़ फैक्ट्री एरिया के पास मिलेगा, उसकी सूचना के आधार पर पुलिस ने फैक्ट्री एरिया के पास ट्रक की तलाश की तो वहां एक सुनसान जगह पर ट्रक खड़ा हुआ मिला। ट्रक को कब्जे में लेकर माल की लिस्ट से देखकर जांच की तो 58 कार्टून में से एक कार्टून कम मिला। उस कार्टून में हाईटेक इलेक्ट्रोनिक मशीन थी जो गायब मिली। शक होने पर पुलिस ने ट्रक चालक पिंटू कुमार व ट्रांसपोर्ट कंपनी के मालिक महिपाल यादव व पाल ट्रांसपोर्ट कंपनी के कर्मचारी राजकुमार से गहनता से पूछताछ की। 

पूछताछ में पता चला कि ट्रक आरजे 02 जीएस 7027 पर चालक पिंटू कुमार था, ट्रक मालिक धमेन्द्र सिंह ने पिंटू को गाड़ी सहित माल को फैक्ट्री एरिया में सुनसान जगह पर खड़ा करने को कहा और वहां दोनों ने मिलकर एक कार्टून गायब कर दिया। पुलिस ने ट्रक चालक पिंटू व मालिक धमेन्द्र सिंह को माल सहित ट्रक चोरी करने व माल को खुर्दबुर्द करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। गायब हुए बॉक्स व हाइटेक इलेक्ट्रोनिक मशीन को लेकर आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।