छह बोगियों को छोड़कर 2 किमी तक दौड़ गई ट्रेन, कपलिंग टूटने से दो भाग में बंटी खाली मेमू

हाजीपुर रेलमार्ग पर कुढऩी के एडवांस सिग्नल पर मंगलवार को खाली मेमू ट्रेन के रैक की कपलिंग टूट गई। इससे ट्रेन दो भाग में बंट गई। ये ट्रेन मुजफ्फरपुर से दानापुर मेंटेनेंस के लिए जा रही थी। कपलिंग टूटने से एडवांस सिग्नल के पास गार्ड के साथ छह बोगियां खड़ी हो गईं। आगे की बोगी लेकर लोको पायलट दो किमी निकल गए। 
दो भाग में ट्रेन को बंटा देखकर गार्ड के होश उड़ गए। हालांकि, बड़ा हादसा टल गया। इस दौरान कुछ देर के लिए परिचालन बाधित रहा। गार्ड ने लोको पायलट, कंट्रोल व स्टेशन मास्टर को मोबाइल पर सूचना दी। लोको पायलट ने ट्रेन को रोका और फिर पीछे कर एडवांस सिग्नल पर लाकर छूटी बोगियों को जोड़ा गया। इसके बाद पूरी बोगियों के साथ ट्रेन गोरौल स्टेशन पहुंची। कोचिंग डिपो कर्मियों ने जांच की। 

इसके बाद गोरौल स्टेशन से दानापुर के लिए ट्रेन रवाना की गई। कर्मियों ने ज्वाइंट रिपोर्ट तैयार की। इसमें समस्तीपुर मंडल के दरभंगा में ट्रेन का मेंटेनेंस करने वाले कोचिंग डिपो के कर्मियों की लापरवाही सामने आई। कर्मियों ने सोनपुर मंडल के डीआरएम को रिपोर्ट भेजी है। अधिकारी ने कहा कि रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।