रातभर साथ में शराब पीते रहे और फिर सुबह पहुंच गए ATM तोडऩे, और फिर ऐसे पकड़ाए

अंबिकापुर शहर के ब्रम्ह रोड स्थित कोटक महिंद्रा बैंक के एटीएम में बुधवार की सुबह तोडफ़ोड़ के मामले में कोतवाली पुलिस ने घटना के 6 घंटे के अंदर नाबालिग सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों ने रुपए चोरी करने के लिए शराब के नशे में एटीएम में घुसकर 45 मिनट तक हथौड़े-रॉड से मशीन को तोडऩे का प्रयास किया था। पुलिस ने नाबालिग आरोपी को बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया, वहीं एक आरोपी को जेल दाखिल कर दिया है।
कोतवाली प्रभारी विलियम टोप्पो ने बताया कि बिलासपुर चौक निवासी सद्दाम खान पिता लक्षी खान ने बाबूपारा निवासी एक नाबालिग दोस्त के साथ मिलकर मंगलवार की पूरी रात शराब पी। दोनों शराब सेवन करने के बाद भोर में घर जा रहे थे। इसी बीच रास्ते में दोनों ने एटीएम तोडक़र रुपए चोरी करने की प्लानिंग की। इस दौरान दोनों आरोपियों ने पहले एक निर्माणाधीन मकान से हथौड़ा व रॉड चोरी किया। इसके बाद दोनों बाइक से राम मंदिर के पास पहुंचे बाइक खड़ी कर पैदल ब्रहम रोड स्थित कोटक महिंद्रा बैंक के एटीएम में घुसे। पुलिस ने बताया कि दोनों ने लगभग 50 मिनट तक रॉड व हथौड़े से मशीन को तोडऩे का प्रयास करते रहे, जब सफल नहीं हुए तो लगभग ६ बजे निकलकर भाग गए।

कोटक महिंद्रा बैंक के मैनेजर रेहान खान ने कोतवाली में एटीएम तोड़े जाने की शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत पर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी। घटना के 6 घंटे के अंदर पुलिस ने सीसीटीवी के फुटेज व मुखबिर की सूचना पर दोनों आरोपियों को एक साथ घूमते गिरफ्तार कर लिया। कुछ माह पूर्व भी चोरी के मामले में पकड़ा गया था नाबालिग। पुलिस ने नाबालिग आरोपी को बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया है, वह कुछ माह पूर्व भी चोरी के मामले में पकड़ा जा चुका है। वहीं सद्दाम को पुलिस ने न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है। कार्रवाई में कोतवाली प्रभारी विलियम टोप्पो, दिलीप दुबे, सीनू फिरदौसी, सत्येंद्र दुबे, मनीष सिंह, अतुल सिंह व अरविंद उपाध्याय शामिल रहे।