बिना चेकिंग के कोई भी नहीं करेगा बॉर्डर को पार, एसएसबी है काफी ज्यादा सतर्क

दक्षिण भारत से जुड़े 2आतंकी उत्तर प्रदेश में आने की सूचना के बाद जहाँ पूरे प्रदेश में अलर्ट है, वही प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में भी इसको लेकर सुरक्षा एजेंसियां नेपाल बॉर्डर पर अलर्ट दिखायी पड़ रही है। ये जिला भारत नेपाल बॉर्डर का जिला है जिले के बॉर्डर पर 68 किलोमीटर खुली सीमा है। अब खुली सीमा होने और आतंकियों के नेपाल भागने की सुरक्षा एजेंसियों के अलर्ट के बाद यह बॉर्डर पर काफी संवेदनशील माना जा रहा जिसको लेकर बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के अधिकारी और जवान भारत से नेपाल जाने और नेपाल से भारत आने वाले हर व्यक्ति और वाहनों की चेकिंग के साथ आधार कार्ड पहचान पत्र भी देख रहे है।
वही नेपाल बॉर्डर पर लगे उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान भी बॉर्डर पर एसएसबी के जवानों के साथ चेकिंग कर रही है। नेपाल बॉर्डर पर उत्तर प्रदेश पुलिस और एसएसबी के जवानों के साथ पुलिस के सीओ और एसएसबी के अधिकारियो ने चेकिंग की कमान संभाल रखी है। 43वी वाहनी एसएसबी के जिले के कमाण्डेन्ट अमित सिंह नेपाल बॉर्डर पर अलर्ट को लेकर बताया कि दो दिन पहले उच्च मुख्यालय से हमारे पास दो नाम और फ़ोटो आया है एक का नाम ख्वाजा मैनुद्दीन और दूसरे का नाम अब्दुल समद है। जो आई एस आई आतंकी संगठन से जुड़े हो सकते है ऐसा अलर्ट आया है।जो नेपाल बॉर्डर पार कर देश छोड़ने की फिराक है।इसी को लेकर सभी सीमा चौकियों पर अलर्ट कर दिया गया बिना चेकिंग के कोई भी बॉर्डर पार नही कर पा रहा है।आपको बता दें कि इससे पहले यूपी के बस्ती में भी हाई अलर्ट जारी किया गया था। जिसके बाद पूरे इलाके में छानबीन चल रहीं है।