प्रेमिका की शादी तय हुई तो प्रेमी ने उठा लिया ऐसा कदम, प्रेमिका गई थी खेत की ओर और वह वापिस नहीं आई...

loading...
अलीगढ़ के मडराक थाना क्षेत्र के गांव से 11 दिन से लापता 11वीं की छात्रा का शव पुलिस ने जंगल के पास एक सूखे कुएं से बरामद कर लिया है। पकड़े गए हत्यारोपी और उसके दोस्त ने हत्या करना स्वीकार किया है। पुलिस ने दोनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। जानकारी के मुताबिक 18 वर्षीय युवती घर से शौच के लिए गई थी, लेकिन वह वापस नहीं लौटी। काफी तलाश के बाद कहीं सुराग नहीं लगने पर 29 दिसंबर को युवती के पिता ने गुमशुदगी दर्ज करा दी। 
पुलिस ने मोबाइल फोन की सीडीआर खंगाली तो उसमें नजदीक के गांव खेड़िया ख्वाजा निवासी अमित पुत्र भूरी सिंह के मोबाइल पर बार-बार बात करने की पुष्टि हो गई। 27 दिसंबर को भी उसने मोबाइल फोन पर बात की थी। एसपी देहात ने बताया कि पुलिस ने अमित की तलाश की, लेकिन वह हत्थे नहीं चढ़ा। सोमवार की सुबह सूचना पर पुलिस ने अमित को उसके दोस्त बॉबी पुत्र रमेश के साथ गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने सपना की हत्या करना स्वीकारा। बताया कि पिछले चार साल से उसके युवती से प्रेम संबंध थे, परिजनों ने उसकी शादी तय कर दी थी। 27 को मिलने के दौरान उससे कहा था कि शादी से इंकार कर दे, लेकिन नहीं मानी। 
इस पर उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने आसना गांव के जंगल में एक सूखे कुएं से युवती का शव और मोबाइल फोन बरामद कर लिया। पुलिस के मुताबिक अमित की शादी हो चुकी है। उसके तीन बच्चे हैं। युवती के पिछले चार साल से अमित से प्रेम संबंध थे। अमित ने मिलने के लिए युवती को बुलाया था, लेकिन यहां उसका शादी को लेकर उससे विवाद हो गया। अमित युवती पर शादी करने के लिए दवाब बना रहा था, लेकिन युवती ने शादी तय होने का हवाला देकर इनकार कर दिया। इससे गुस्साए अमित ने अपने साथी की मदद से उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और शव सूखे पड़े कुएं में फेंक दिया।