दबंगई के आगे फास्टैग हुआ फेल, बिना टोल दिए ही निकल रहे लोग, कर्मचारी बेबस

मेरठ जनपद के मोदीपुरम में सिवाया टोल प्लाजा पर आसपास के गावों के लोगों की दबंगई के आगे फास्टैग फेल साबित हो रहा है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि दौराला, भराला आदि गावों के कई वाहन चालक टोल प्लाजा से बिना टोल दिए ही निकल रहे हैं। इनके वाहन पर फास्टैग नहीं लगा है, लेकिन इसके बावजूद ये चालक कैश की जगह फास्टैग लेन से बेधड़क निकल जाते हैं। दबंगई का आलम यह है कि जब ये वाहन फास्टैग लेन में घुसते हैं तो इन्हें टोलकर्मी से सिर्फ अपने गांव का नाम लेना होता है और इसके बाद ये वाहन चालक बिना टोल टैक्स दिए किसी वीआईपी की तरह निकल जाते हैं। 
loading...
सिवाया टोल प्लाजा के आसपास सिवाया, दौराला, भराला समेत कई गांव हैं। एनएचएआई के नए नियमों के मुताबिक स्थानीय वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर सिर्फ तभी छूट दी जाएगी जब उनके वाहन पर फास्टैग लगा होगा। फास्टैग न होने की स्थिति में उन्हें पूरा टोल देना होगा। सिवाया टोल प्लाजा पर आए दिन टोल टैक्स को लेकर वाहन चालकों और टोलकर्मियों के बीच विवाद होता रहता है। कई बार विवाद की स्थिति में आसपास के गांवों के वाहन चालक अपने साथियों को बुलाकर मौके पर हंगामा कर चुके हैं, ऐसे में टोल प्रबंधन स्थानीय वाहन चालकों के आगे बेबस रहता है। इसी का फायदा उठाकर स्थानीय गांवों के वाहन चालक बिना टोल टैक्स दिए ही फास्टैग लेन से निकल रहे हैं। ये वाहन चालक टोल बूथ पर पहुंचकर सिर्फ अपने गांव का नाम लेते हैं और बेबस टोलकर्मी बिना किसी रोकटोक बूम उठाकर इन्हें जाने देते हैं। इतना ही नहीं कई बार ये वाहन चालक अपने से आगे जा रही गाड़ी को रोककर पहले अपनी गाड़ी निकालते हैं जिस कारण टोल प्लाजा पर जाम की स्थिति बनती है।

टोल प्रबंधन के मुताबिक रोजाना लगभग 5000 वाहन टोल देने से बचने के लिए अंदरूनी मार्गों का रूख कर रहे हैं। ये वाहन चालक सिवाया भराला और मोदीपुरम कृषि विवि की ओर से निकल रहे हैं। टोल प्रबंधन कई बार इसे रोकने का प्रयास कर चुका, लेकिन अभी भी इसका कोई स्थायी हल नहीं निकल सका। ऐसे में लोगों की इस मनमानी के कारण राजस्व की भी हानि हो रही है। टोल प्रबंधन के अनुसार सिवाया टोल प्लाजा पर फास्टैग लगे वाहनों की संख्या बढ़ती जा रही है। अब टोल प्लाजा से गुजर रहे वाहनों में 60 फीसदी वाहन फास्टैग लगे हैं। टोल प्रबंधन के मुताबिक अभी तक करीब 15400 वाहनों पर फास्टैग लग चुका है। पिछले 24 घंटे में करीब 17 हजार वाहन टोल प्लाजा से निकले हैं।