छह रेलवे स्टेशनों पर बढ़ेंगे एक..एक प्लेटफार्म, यात्री सुविधाओं में भी हो जाएगा इजाफा

प्रतापगढ़ जिले में रेल लाइन दोहरीकरण योजना के तहत छह स्टेशनों की सूरत बदलेगी। वहां एक-एक नए प्लेटफार्म बनाए जाएंगे। अन्य कई तरह की यात्री सुविधाओं का भी विस्तार किया जाएगा। वाराणसी से रायबरेली तक रेल लाइन दोहरीकरण का काम चल रहा है। इसके अंतर्गत प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय के रेलवे जंक्शन पर दो नए प्लेटफार्म चार और पांच बन रहे हैं। हालांकि इसका काम अभी धीमा है। सई नदी पर नई रेल लाइन के लिए पुल बनाने का काम चल रहा है। 
loading...
अब छोटे स्टेशनों को भी संवारा जाएगा। इसके तहत गौरा, सुवंसा, दांदूपुर, पिरथीगंज व जगेसरगंज स्टेशन पर एक-एक नए प्लेटफार्म बनाए जाएंगे। इन स्टेशनों पर मौजूदा समय में केवल एक ही प्लेटफार्म है। बीच में केवल अंतू और चिलबिला स्टेशन पर दो प्लेटफार्म बने हैं, लेकिन जहां एक हैं, वहां पर कई महत्वपूर्ण गाड़ियों का ठहराव रेल विभाग ने मंजूर नहीं किया है। इस कारण इन स्टेशनों पर अक्सर सन्नाटा रहता है। गाड़ी आने के समय ही कुछ हलचल दिखाई पड़ती है। 

यात्रियों को एक्सप्रेस गाड़ियां पकड़ने के लिए प्रतापगढ़, बादशाहपुर जंक्शन जाना पड़ता है। अब एक-एक प्लेटफार्म बढ़ने से यात्रियों को सहूलियत होगी। दोनों प्लेटफार्मों को कनेक्ट करने के लिए फुट ओवरब्रिज भी यहां पर बनाए जाएंगे। इसका प्रस्ताव रेलवे बोर्ड ने मंजूर किया है। उम्मीद है कि आने वाले रेल बजट में इसे शामिल किया जाएगा। इस बारे में एडीईएन निहालुद्दीन का कहना है कि यह निर्माण विभाग का काम है। प्लेटफार्म और एफओबी बनने से यात्रियों को सुविधा मिलेगी।