खुशबू हत्याकांड का हुआ खुलासा, पकड़ा गया एक हत्यारोपी

बानो के समडेगा स्थित तालाब से विगत दो जनवरी को 20 वर्षीय खुशबू के मिले शव मामले का पुलिस ने खुलासा कर लिया है। पुलिस ने हत्यारोपी सुलेन्द्र लोहरा, बानो समडेगा निवासी को गिरफ्तार कर लिया है। उसकी निशानदेही पर लड़की का मोबाइल, कपड़ा व हवाई चपल को भी बरामद कर लिया है। इस बाबत एसपी संजीव कुमार ने बताया कि बानो के समडेगा तालाब से युवती का शव बरामद किया गया था। 
इस बाबत खुशबू की मां ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी पुत्री की हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया गया है। इसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए एसडीपीओ राज किशोर के नेतृत्व में एसआईटी टीम गठित की गई थी। जिसने अपने अनुसंधान में हत्या के अप्राथमिक अभियुक्त सुलेन्द्र लोहरा को पहले गिरफ्तार किया। सख्ती से पूछताछ के बाद सुलेन्द्र ने अपना अपराध स्वीकार किया। एसपी ने बताया कि आरंभिक जांच के मुताबिक युवती एक जनवरी को नया साल मनाने के लिए अखरा में नृत्य करने के लिए गई थी। 

इसी क्रम में युवक सुलेन्द्र लोहरा लड़की के साथ नजदीकी बनाने की कोशिश की। जिसके बाद लड़की ने उसे उसके घरवाले व गर्लफ्रेंड से यह बात बताने की बात कही। नशे में होने के कारण सुलेन्द्र ने आवेश में आकर उसकी हत्या कर दी और शव को फेंक दिया। मामले का खुलासा करने वाली टीम में एसडीपीओ के अलावा पुलिस निरीक्षक आलोक सिंह, बानो थाना प्रभारी प्रभात कुमार, परि.पु.अ.नि. शैलेन्द्र पासवान, मणिभूषण पासवान,सअनि अवनेश पांडेय, तकनीशियन सुनील कुमार व सशत्र बल शामिल था।