हादसे में हो गई दरोगा की मौत, सुनते ही पत्नी भी हो गई बेहोश..

हादसे में दारोगा की मौत की जानकारी मिलते ही उनकी पत्नी बेहोश हो गईं। बेटे और बेटी का भी रो-रोकर बुरा हाल था। मृतक दारोगा के परिवार की ऐसी हालत देखकर वहां मौजूद लोगों की आंखे भी नम हो गईं। सिविल लाइन क्षेत्र के मोहनपुरी में रह रहीं दारोगा की पत्नी अमरेश को खरखौदा पुलिस ने फोन कर घायल होने की सूचना दी थी।

सूचना मिलते ही अमरेश अपने बच्चों के साथ मेडिकल कॉलेज पहुंच गईं। लेकिन जैसे ही अमरेश मेडिकल कॉलेज पहुंची, उन्हें दारोगा आनंद प्रकाश की मौत की जानकारी मिली। ऐसा सुनते ही वो बेसुध हो गईं। फिर पति का शव देखकर रोने लगीं। उन्होंने रोते हुए कहा कि शनिवार रात को ही फोन पर बात हुई थी। मुझसे कहा था कि चिंता मत करना, घर पर आराम से रहना.मैं सुबह आऊंगा, उसके बाद गांव भी जाना है।
loading...
रोत-बिलखते परिवार को महिला कांस्टेबल और अन्य लोगों ने किसी तरह संभाला। परिजनों ने बताया कि दरोगा के पिता महिपाल सिंह सेवानिवृत्त अध्यापक हैं। मां श्यामो देवी ने आनंद प्रकाश को गांव बुलाया था। अमरोहा से चलने से पहले ही दरोगा ने पिता से फोन पर बात की थी और गांव आने आने को कहा था। माता-पिता उनका इंतजार कर रहे थे। जैसे ही बेटे की मौत की सूचना मिली, दोनों की आंखें पथरा गईं। जानकारी के मुताबिक, मेरठ- बुलंदशहर निर्माणाधीन हाईवे पर रविवार सुबह तेज रफ्तार महिंद्रा पिकअप सामने से आ रही दरोगा की स्विफ्ट कार में घुस गई। हादसे में दरोगा की मौत हो गई। पिकअप सवार एक व्यक्ति घायल हो गया। वहीं, हादसे के बाद आरोपी चालक पिकअप को छोड़कर फरार हो गया। पिकअप में सवार सुभाष पुत्र धनपाल निवासी तोचीगढ़ अलीगढ़ को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।