जान से अधिक चाहने का वादा कर शादी किया, फिर चरित्र पर संदेह करते हुए पत्नी के साथ किया ऐसा गलत...

दिल्ली रोड स्थित नई माता मंदिर के पास सोमवार सुबह एक युवती की गला दबा और सिर कुचलकर हत्या कर दी गई। सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और वारदात का पता चलने के पांच घंटे बाद ही घटना स्थल पर मिली स्कूटी के आधार पर हत्यारे तक पहुंचे। पड़ताल के बाद में मामले में मृतका के पति को ही हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि दो साल पहले ही युवती ने लव मैरिज की थी। पति को पत्नी के चरित्र पर संदेह होने पर उसकी हत्या कबूला है।
loading...
अतिरिक्त पुलिस आयुक्त अशोक गुप्ता ने बताया कि घाटगेट स्थित सरायबालों का मोहल्ला निवासी अयाज अहमद को पत्नी रेशमा मंगलानी की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि अयाज ने दो वर्ष पहले रेशमा से लव मैरिज की थी। तीन माह पहले ही उनके बेटी हुई थी। पत्नी पर चरित्र संदेह को लेकर दोनों में कहासुनी होती रहती थी। दो बार तलाक देने तक की नौबत आ गई। लेकिन फिर दोनों एक साथ रहने लगे। दो माह से रेशमा जयसिंहपुरा खोर स्थित झुलेलाल कॉलोनी निवासी अपनी मां रेखा सिंधी के पास रह रही थी। अयाज ऑनलाइन फूड डिलेवरी का काम करता है।

पुलिस उपायुक्त राजीव पचार ने बताया कि आरोपी अयाज से पूछताछ में सामने आया है कि रेशमा की हत्या करने की साजिश रची। इसके तहत रेशमा को उसकी स्कूटी से कालवाड़ रोड स्थित उनके फ्लैट पर ले गया। यहां झांसा दे उसको बीयर पिलाई। इसके बाद रात करीब 9 बजे स्कूटी से दिल्ली रोड नई माता मंदिर के पास लेकर पहुंचा। यहां पर पत्नी का जोर से गला दबा दिया। बेसुध हो पत्नी जमीन पर गिर गई। तभी वहां रखे मोटे पत्थर से उसका सिर कुचल दिया। दो तीन बार पत्थर चेहरे पर मारे, इससे उसकी पहचान नहीं हो सके। फिर स्कूटी घटना स्थल पर ही छोड़ भाग गया। हालांकि स्कूटी में पेट्रोल खत्म हो गया। पेट्रोल खत्म होने पर स्कूटी वहां छोड़ी। या फिर जानबूझकर स्कूटी में इतना ही पेट्रोल रखा, जो सुनसान जगह पर जाकर बंद हो जाए। इस संबंध में पुलिस पूछताछ कर रही है।

उपायुक्त राजीव पचार ने बताया कि सोमवार सुबह दिल्ली रोड नई माता मंदिर के पास युवती की सिर कुचला शव मिलने की सूचना मिली। सभी अधिकारी मौके पर पहुंचे। शव के नजदीक स्कूटी खड़ी मिली और हेलमेट पड़ा था। कुछ दूरी पर स्थित एक चाय की थड़ी वाले ने युवती के साथ एक युवक होने की पुष्टि की। स्कूटी रेशमा के नाम से थी। नंबरों के आधार पर रेशमा की मां रेखा के जयसिंहपुरा खोर स्थित घर पहुंचे। मां ने सबसे पहला शक पति अयाज पर जताया। लेकिन किसी और का भी हाथ होने की शंका जताई। बाद में जिला विशेष टीम के कांस्टेबल सुरेन्द्र व हनुमान में पति अयाज का पता कर उसे पकड़ा। पूछताछ के बाद आरोपी ने हत्या करना कबूल लिया।