ट्रक और डंपर की भिड़ंत में दो चालकों की हो गई मौत

बांदा-टांडा हाईवे पर गुरुवार सुबह चार बजे ट्रक और डंपर की आमने-सामने भिड़ंत हो गई। हादसे में दोनों वाहन के चालकों की मौत हो गई। खलासी व एक चालक मामूली घायल हैं। दोनों के शव ट्रक और डंपर में फंसे थे। मशक्कत के बाद शवों को निकाला जा सका। क्रेन से क्षतिग्रस्त वाहनों को हटवाने के करीब तीन घंटे बाद यातायात बहाल कराया जा सका। पुलिस ने डंपर चालक को झपकी आने से हादसे का अंदेशा जताया है।
loading...
बाराबंकी जिला के आसुंदरा थाने के नूरपूर निवासी बदरुद्दीन का बेटा मैनुद्दीन (24) ट्रक चालक था। खलासी चंदन चौहान ने बताया कि मौरंग लादकर बाराबंकी जा रहे थे। भोर लगभग चार बजे ललौली थाना क्षेत्र के दतौली पुलिस चौकी के पास सामने से आ रहे तेज रफ्तार डंपर से भिड़ंत हो गई। बकौल चंदन डंपर को रफ्तार से आते देखकर मैनुद्दीन ने ट्रक की रफ्तार धीमी कर दी थी। इसके बाद भी डंपर चालक दाहिनी ओर चालक की तरफ घुस आया। भिड़ंत से मैनुद्दीन केबिन में फंस गया था। वह (चंदन) किसी तरह से बाहर निकल पाया। 

दूसरी ओर बाराबंकी के रामनगर थाना क्षेत्र के चांदपुर गांव निवासी अंकुल चौहान (20) पुत्र अर्जुन चौहान डंपर चला रहा था। साथ में उसका साती अशोक भी साथ था। अशोक ने बताया कि भिड़ंत की भीषण होने पर उसकी नींद खुली। दोनों वाहन साइड से भिड़े थे। क्रेन और गैस कटर की सहायता से डंपर और ट्रक की बॉडी कटवाई गई और शव बाहर निकाले गाए। क्षतिग्रस्त वाहनों को सुबह करीब सात बजे किनारे कराया जा सका। बांदा-तिंदवारी मार्ग पर वाहनों की लंबी कतारें लगी रही है। एसओ प्रदीप यादव ने बताया कि चालकों की मौके पर ही वाहनों की स्टेयरिंग और शरीर का हिस्सा फंसने से कटकर मौत हो गई थी।