दहेजलोभियों की ऐसी बेशर्मी, बहू की पेटी में लगा रखा था करंट, जैसे ही खोली हो गई मौत

दहेज में कम सामान लाने पर पति, सास व ससुर ने नव विवाहिता को प्रताडि़त किया। विरोध और शिकायत पर पंचायत में दोबारा प्रताडि़त नहीं करने ससुराल वालों ने समझौता कर लिया। घर ले जाने के बाद ससुराल वालों ने मिलकर करंट लगाकर नव विवाहिता को मार डाला। घटना कोटमी चौकी अंतर्गत ग्राम मढ़ई में 9 जुलाई 2019 को हुई थी। पुलिस ने आरोपी पति, सास व ससुर के खिलाफ दहेज हत्या का अपराध दर्ज कर लिया है। कोटमी चौकी से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम देवरीकला निवासी प्रमिला गोड़ पिता लालचंद गोड़ (24) का विवाह ५ मई 2018 को ग्राम मढ़ई निवासी हरदीन गोड़ से हुआ था। 
प्रमिला के परिजनों ने दहेज में घरेलु उपयोग का सामान हैसियत के अनुसार दिया था। शादी के बाद से पति हरदीन, सास तिजिया बाई और ससुर कुंवर सिंह मिलकर प्रमिला को दहेज में सामान कम लाने की बात पर प्रताडि़त करने लगे थे। प्रमिला ने कई बार परिजनों को प्रताडऩा की जानकारी दी थी, लेकिन प्रमिला के परिजन प्रमिला को कुछ दिनों में ससुराल वालों के व्यवहार में बदलाव आने और दिनचर्या ठीक हो जाने की समझाइश देते थे, लेकिन ससुराल वाले सुधरने के बजाए प्रमिला को और भी प्रताडि़त करने लगे थे।

9 जुलाई 2019 को आरोपी हरदीन, कुंवर सिंह और तिजिया बाई ने मिलकर प्रमिला की हत्या करने की योजना बनाई थी। तीनों ने मिलकर बिजली के नंगे तार को लोहे की पेटी से जोड़कर विद्युत प्रवाह कर दिया था। शाम करीब साढ़े 5 बजे प्रमिला मोबाइल को चार्जिंग पर लगाने गई थी। पेटी में प्रवाहित करंट की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई थी। घटना की सूचना हरदीन ने डॉयल 112 को दी थी। पुलिस कर्मी मौके पर पहुंचे तो प्रमिला का पैर लोहे की पेटी के नीचे फंसा था। पेटी में करंट था। मामले में पुलिसने मर्ग कायम किया था।