प्रेमी के कारण पत्नी नहीं रहती थी साथ में, इसलिए पत्नी ने जो काम किया जानकर हैरान होंगे आप...

शहडोल के नजदीकी ग्राम नरवार में एक पति ने अपनी पत्नी के प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया। घटना के सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद से क्षेत्र में सनसनी व्याप्त है। जानकारी के अनुसार 45 वर्षीय पन्नेलाल गोंड़ पिता हेम्मा गोड़ मंगलवार से लापता था। परिजन उसकी तलाश कर रहे थे। 
loading...
शुक्रवार देर रात गांव से करीब आधा किलोमीटर दूर उसका शव मिला। घटना की सूचना डायल 100 को दी गई। इसके बाद सोहागपुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। शव को बरामद करते हुए पुलिस ने पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं आसपास के लोगों से पूछताछ शुरू की। पूछताछ में पड़ोसी शिवचरण कोल पिता कोदूलाल कोल (48) के बारे में जानकारी मिली। पूछताछ में लोगों ने पन्नेलाल और शिवचरण की पत्नी के बीच संबंध के बारे में भी बताया।
इसके बाद पुलिस आरोपी शिवचरण की घेराबंदी में जुट गई और जैतपुर क्षेत्र से उसको पकड़ लिया है। उससे घटना के संबंध में पूछताछ की जा रही है। बताया जाता है कि पन्नेलाल की पत्नी उसके साथ नहीं रहती थी। वह पिछले चार साल से अपने मायके में रहती थी। पन्नेलाल के छह लड़कियां और एक लड़का है। दो लड़कियों की शादी हो गई है। इधर शिवचरण के एक ही लड़का है। शिवचरण और पन्नेलाल का घर अगल-बगल ही है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। अभी उससे पूछताछ की जा रही है। 
शव के पोस्टमार्टम के लिए पुलिस और परिजनों को करीब 10 घंटे का इंतजार करना पड़ा। ग्राम पंचायत नरवार के सरपंच मूरत सिंह ने बताया कि सुबह ही शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय के मार्चुरी में रखवा दिया गया था। पोस्टमार्टम करने के लिए जो डॉक्टर आए उनको ज्यादा अनुभव नहीं था, तो उन्होंने पोस्टमार्टम नहीं किया। इसके बाद शाम को दूसरे डॉक्टर ने पोस्टमार्टम किया।