बहन ने किया फरार बहन को लेकर बड़ा खुलासा, प्रेमी के कमरे में मिली...

दौसा जिले के अनूपपुरा गांव की डालूवाली ढाणी निवासी युवती की ओर से खेत में बोरवेल के पास कपड़े व एक पत्र छोड़ने के बाद जयपुर में बरामद होने के मामले में कई रोचक जानकारियां पुलिस को मिली हैं। पुलिस को दिए गए बयानों में युवती ने बताया कि वह अपनी मर्जी से जयपुर गई थी। जानकारी के अनुसार, युवती शहर में रहना चाहती थी, इसलिए उसने बोरवेल में गिरने का ड्रामा किया और पुलिस व प्रशासन को धोखे में रखकर जयपुर जा पहुंची। युवती ने अपने बयान में पुलिस को बताया कि वह अपनी मर्जी से घर से गई है। वह ग्रामीण जिंदगी की जगह शहरी जिंदगी जीना चाहती थी। इसलिए उसने यह रास्ता चुना।
थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि बोरवेल के पास में युवती के कपडों में सुसाइड नोट मिलने से बोरवेल में गिरकर आत्महत्या करने का अंदेशा मानते हुए बोरवेल की खुदाई की। 32 फुट की गहराई तक जमीन को खोदा गया, लेकिन सूखे बोरवेल का मुंह छोटा था युवती 18 वर्ष से अधिक उम्र की थी। शारीरिक संरचना बोरवेल की स्थिति को देखकर बोरवेल में गिरने की बात समझ से परे थी। इसके बाद पुलिस ने नए सिरे से मामले की जांच की।

इस दौरान युवती की छोटी बहन से पूछताछ के दौरान उसके जयपुर में ही कमरा लेकर कंपनी में काम करने वाले सोनू जाटव के साथ की बात सामने आई तो एक पुलिस दल जयपुर रवाना किया गया। जयपुर पहुंचने के बाद इस दल ने जिस कंपनी में यह युवती काम करती थी, उस कंपनी के कार्यालय पर पहुंच कर युवक सोनू जाटव से पूछताछ की तो उसने युवती के सीतापुरा क्षेत्र में कमरे पर होने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने युवती को कमरे से दस्तयाब कर लिया। इस पूरे प्रकरण को लेकर युवती के ने लालसोट थाने में मामला दर्ज कराया है। प्राथमिकी में बताया कि उसकी भांजी को जयपुर में काम करने वाला सोनू जाटव बहला-फुसलाकर भगा ले गया है।