आरोपी ने गलत काम करने के दौरान ले लिया था जान, बाद में सीमेंट की बोरी में ठूंस दिया

तीन जनवरी को मुहाना मंडी के सामने केश्यावाला के रहने वाले 11 वर्षीय अर्पित की हत्या के आरोपी को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।  बच्चे के चिल्लाने पर उसकी हत्या कर दी थी। आरोपी 27 वर्षीय राकेश उर्फ रोडू बच्चे का पड़ोसी है। एडिशनल कमिश्नर अशोक कुमार गुप्ता ने बताया क आरोपी को 8 जनवरी तक पुलिस कस्टडी में भेजा है। परिंदों को दाना डालकर लौट रहा था।
जानकारी के अनुसार अर्पित 3 जनवरी की सुबह मंदिर के पास परिंदों को दाना डालकर लौट रहा था। इस बीच आरोपी उसे टोपी और पतंग का लालच देकर अपने साथ कमरे में ले गया था। इसके बाद उसने बच्चे के साथ गलत काम करने की कोशिश की। जब बच्चे ने विरोध किया, तो आरोपी ने उसका पेट अपने घुटनों से दबा दिया। बच्चे ने जब चिल्लाना शुरू किया, तो आरोपी ने उसका गला दबा दिया। बच्चे की मौत के बाद आरोपी ने लाश को सीमेंट की बोरी में ठूंस दिया। देर रात आरोपी शव को पड़ोस में स्थित बाड़े में ले गया। वहां उसने बच्चे का गला काट दिया। फिर लाश को चारे के ढेर में फेंक दिया।

24 घंटे के अंदर पकड़ लिया गया

डीसीपी योगेश दाधीच ने बताया कि पुलिस ने करीब 200 महिलाओं और पुरुषों से पूछताछ की। इनमें दो लोग संदिग्ध नजर आए। जब आरोपी रोडू को पकड़कर कड़ाई से पूछताछ की गई, तो वो टूट गया। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस के अनुसार आरोपी ने घटना के बाद फर्श धो दिया था। आरोपी को कम सुनाई देता है।