पश्चिमी यूपी में भारी बारिश की बताई गई संभावना, फिर लौटेगा सर्दी का सितम

ठंड से कुछ दिनों की राहत के बाद एक बार फिर से मौसम सर्द होने जा रहा है. रविवार के बाद से सूरज नजर नहीं आ रहा और आसमान में बादल छाए हुए हैं. दरअसल, पश्चिमी विक्षोभ के चलते मैदानी इलाकों में सूरज दिखाई नहीं दे रहा है. सोमवार को पूरे दिन बादल छाए रहे और कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी भी हुई. अभी ये सिलसिला बुधवार तक जारी रहने का अनुमान है.
मौसम विभाग के मुताबिक, अगले 48 घंटों में मेरठ और वेस्ट यूपी में भारी बारिश होने की संभावना है. बुधवार, 8 जनवरी को मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर और बिजनौर सहित कुछ इलाकों में भारी बारिश के साथ ओले पड़ने की संभावना है. भी गिर सकते हैं. वहीं 9 जनवरी से मौसम साफ हो सकता है, लेकिन मैदानों में शीतलहर की वापसी होगी. इसके बाद दिन-रात के तापमान में बड़ी गिरावट का अनुमान है.

इससे पहले रविवार को दिनभर बादल छाए रहे. इससे दिन का तापमान 19.8 डिग्री सेल्सियर रिकॉर्ड हुआ जो सामान्य से कम रहा. सोमवार को मौसम में और बदलाव हुआ. सुबह से बूंदाबांदी एवं हल्की बारिश के शुरुआत हुई. दिनभर सूरज नहीं निकला. इससे दिन का तापमान एकबार फिर से 16 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया. मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार को मेरठ का अधिकतम तापमान 15.2 और रात का 10.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ.

दिन का पारा सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम जबकि रात का दो डिग्री सेल्सियस अधिक रिकॉर्ड हुआ. दिन का तापमान 16 डिग्री सेल्सियस से कम पहुंचने से मेरठ में सर्द दिन जैसे हालात बने रहे. मैदानों में दिन के तापमान में 16 डिग्री सेल्सियस से कम पहुंचे अथवा पारे के सामान्य से चार से छह डिग्री सेल्सियस कम पहुंचने पर सर्द दिन जैसे हालात बनते हैं. मौसम विभाग के अनुसार शाम 5:30 बजे तक मेरठ में 0.4 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई.