स्कूल के बाहर खड़े ट्रक से बह रही थी ब्लड की धार, ड्राइवर को तुरंत किया गया गिरफ्तार

झारखंड के सुदूरवर्ती जिला गढ़वा में एक ट्रक से खून की धार बह रही थी. स्थानीय लोगों ने ट्रक के ड्राइवर को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. मामले की जांच के लिए जिला मुख्यालय से पुलिस को बुलाया गया है. मामला मझिआंव थाना क्षेत्र का है. मझिआंव थाना क्षेत्र के पुरहे में शनिवार की रात एक ट्रक एक स्कूल के पास खड़ा था. लोगों ने देखा कि ट्रक से खून की धार बह रही है. लोग जब ट्रक के करीब पहुंचे, तो देखा कि ट्रक पर मुर्गे के पंख आदि पड़े हैं. इसके बाद उनका शक गहराया और उन्हें लगा कि इसमें प्रतिबंधित मांस है.
ग्रामीणों ने ट्रक को चारों ओर से घेर लिया और सुबह तक वहीं डटे रहे. सुबह में पुलिस पुरहे गांव पहुंची और ड्राइवर राजेश कुमार ठाकुर को हिरासत में लेकर हाजत में बंद कर दिया. थाना प्रभारी कांडी की एक मंदिर से भगवान की प्रतिमा की चोरी के मामले की जांच के लिए चले गये हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि हरियाणा के नंबर वाले इस ट्रक में प्रतिबंधित मांस लदा है. आशंका जतायी जा रही है कि औरंगाबाद में पुल टूट जाने की वजह से ट्रक इस रास्ते से आया होगा, क्योंकि मझिआंव होकर रास्ता थोड़ा छोटा हो जाता है. यह भी कहा जा रहा है कि ट्रक में मांस की बड़ी खेप लदी है. स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस को गुमराह करने के लिए किनारे में मुर्गे के पंख डाल दिये गये हैं. 

लोग सवाल पूछ रहे हैं कि मुर्गे का मांस कौन ट्रक में लादकर ले जाता है. चिकेन यदि ले जाना होता, तो मुर्गा ही ले जा सकते थे. वहीं, डीएसपी बहामन टुटी ने थाना प्रभारी के बयान देने पर रोक लगा दी है. उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच के बाद वह खुद बयान देंगे. बहरहाल, ट्रक को मझिआंव के प्रखंड कार्यालय परिसर में खड़ा कर दिया गया है. ड्राइवर थाना के हाजत में बंद है. जितनी मुंह, उतनी बातें हो रही हैं. गढ़वा से जांच दल के आने और जांच पूरी होने के बाद ही पुलिस इस मामले में अपना मुंह खोलेगी. यहां बताना प्रासंगिक होगा कि ट्रक (HR55 V7795) हरियाणा के गुरुग्राम का है. यह ट्रक गुरविंदर सिंह के नाम से रजिस्टर्ड है. राजेश कुमार ठाकुर इसे कहां से लेकर आया था और कहां ले जा रहा था, इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पायी है.